Close X
Monday, January 17th, 2022

आत्मनिर्भर गुजरात से आत्मनिर्भर भारत विषय पर होगा वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल सम्मेलन-2022

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 जनवरी को गांधीनगर में ‘वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल सम्मेलन-2022’ का उद्घाटन करेंगे. एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी. अधिकारी ने कहा, ‘तीन दिन तक चलने वाले इस शिखर सम्मेलन का विषय ‘आत्मनिर्भर गुजरात से आत्मनिर्भर भारत’ रखा गया है. उद्योग एवं खान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव गुप्ता ने यहां संवाददाताओं से कहा कि सम्मेलन के दौरान वैश्विक व्यापार मेले के अलावा अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों पर एक गोलमेज का भी आयोजन किया जाएगा.उन्होंने बताया कि सम्मेलन के उद्घाटन के दिन प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में रूस के 15 गवर्नरों के साथ एक बैठक भी होगी. गुप्ता ने कहा, ‘दसवें वाइब्रेंट गुजरात सम्मेलन का उद्घाटन 10 जनवरी, 2022 को प्रधानमंत्री मोदी करेंगे. गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने प्रधानमंत्री के नेतृत्व में इस सम्मेलन का आयोजन करने का फैसला किया है.’गुजरात सरकार सात से अधिक देशों में  प्रतिनिधिमंडल भेजेगी और वाइब्रेंट गुजरात रोड शो आयोजित करेगी. जिसमें मध्य पूर्व और यूरोप देश शामिल हैं. साथ ही सरकार ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में गुजरात से बेहतर प्रदर्शन करने वाले  उत्तर प्रदेश सहित छह राज्यों में भी प्रतिनिधिमंडल भेजेगी.

गुजरात सरकार ने कई कंपनियां के 25,000 करोड़ रुपये के एमओयू पर हस्ताक्षर किए
बता दें गुजरात सरकार ने ‘वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक शिखर सम्मेलन-2022’ के तहत लगभग 25,000 करोड़ रुपये के प्रस्तावित निवेश को आकर्षित करने वाले कई समझौता ज्ञापनों (एमओयू) पर सोमवार को हस्ताक्षर किया. यह सम्मेलन दस जनवरी को शुरू होगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका उद्घाटन करेंगे. सम्मेलन के लिए आयोजित होने वाले समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने वाले कार्यक्रमों की एक श्रृंखला में 19 कंपनियों ने गुजरात के विभिन्न क्षेत्रों में 24,185 करोड़ रुपये का निवेश करने की इच्छा व्यक्त की है. एमओयू पर हस्ताक्षर करने वाली कंपनियों में इंडो एशिया कॉपर लिमिटेड भी शामिल है. कंपनी राज्य के अमरेली जिले के राजुला तालुका के निंगला गांव में एक तांबा स्मेल्टर संयंत्र और उर्वरक परिसर के लिए 8,500 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. इसके अलावा किरी इंडस्ट्रीज, मेघमणि समूह और कलरटेक्स इंडिया ने भी निवेश के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये है.किरी इंडस्ट्रीज ने 2,900 करोड़ रुपये, मेघमणि ने 2,600 करोड़ रुपये और कलरटेक्स ने 2,000 करोड़ रुपये के निवेश का प्रस्ताव किया है. इस दौरान गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल भी मौजद थे. कंपनियों के प्रतिनिधियों और अतिरिक्त मुख्य सचिव (उद्योग और खान) राजीव गुप्ता के बीच समझौता ज्ञापनों का आदान-प्रदान किया गया.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment