स्वास्थ्यकर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर और पहले से बीमार 60 वर्ष या उससे अधिक आयु वालों को आज से लगेगी वैक्सीन। एहतियाती खुराक का दिया गया है नाम, लगभग 1600 केंद्रों पर की गई है व्यवस्था। कोरोना वायरस से बचाव के लिए स्वास्थ्यकर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर और पहले से बीमार 60 वर्ष या उससे अधिक आयु वालों को आज से वैक्सीन की एहतियाती खुराक लगनी शुरू होगी। स्वास्थ्य विभाग ने सभी टीकाकरण केंद्रों के लिए निर्देश जारी कर दिए हैं। इन लोगों को उसी वैक्सीन की डोज मिलेगी, जिसकी पहले दो खुराक इन्हें मिली हों।

इसके अलावा विभाग ने सभी टीकाकरण केंद्रों को जिम्मेदारी दी है कि एहतियाती खुराक लगाने से पहले लाभार्थी से कुछ सवाल पूछने होंगे, जिसमें उनके पहचान पत्र से संबंधित जानकारी के अलावा मोबाइल नंबर और पहले दो खुराक का ब्योरा लेना होगा। इस जानकारी का तय मानकों से मिलान करना होगा। इसके बाद ही लाभार्थी को टीकाकरण कक्ष में प्रवेश दिया जाएगा। इसके अलावा सभी केंद्र निरीक्षकों को निर्देश दिए गए हैं कि खुराक लगने के बाद कम से कम 30 मिनट तक प्रत्येक व्यक्ति को निगरानी कक्ष में रखना अनिवार्य है।

10 जनवरी से दिल्ली के तीन लाख स्वास्थ्य कर्मचारी, चार लाख फ्रंटलाइन वर्कर और पहले से बीमार बुजुर्ग 3.80 लाख लोगों को वैक्सीन की तीसरी यानी एहतियाती खुराक दी जाएगी। इसके लिए कुछ मानक तय किए गए हैं, जैसे दूसरी खुराक लेने के नौ माह पूरे होने पर ही यह खुराक मिल सकती है। साथ ही, इस खुराक को पाने के लिए अलग से कोई पंजीयन कराने की आवश्यकता नहीं है। पहली दो खुराक का ब्योरा कोविन वेबसाइट पर उपलब्ध है, उसी का इस्तेमाल किया जाएगा। PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here