USA ने काबुल से 15 दिन में निकाले एक लाख से ज्यादा लोग

0
50

अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने शनिवार को कहा कि अफगानिस्तान में इस्लामिक स्टेट के एक स्थानीय सहयोगी ISIS-K के दो हाई-प्रोफाइल टारगेट शुक्रवार को अमेरिकी ड्रोन हमले में मारे गए. अमेरिकी सेना के मेजर जनरल हैंक टेलर ने पेंटागन ब्रीफिंग में इस खबर की पुष्टि की है. US सेंट्रल कमांड ने कहा कि पूर्वी अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत में हुए ड्रोन हमले में आईएसआईएस-के के एक योजनाकार की मौत हो गई.यह हमला गुरुवार को काबुल हवाईअड्डे के बाहर एक आत्मघाती बम विस्फोट के बाद हुआ, जिसमें अमेरिकी सेवा के 13 सदस्य और करीब 170 अफगान मारे गए थे. आईएसआईएस-के ने उस भयानक हमले की जिम्मेदारी ली थी.
हालांकि इस खतरे के बाद यूएस राष्ट्रपति ने एक बार फिर से इस बात को दोहराया है कि हालात कितने भी बुरे क्यों ना हों, लोगों को अफगानिस्तान से बाहर निकालने का सिलसिला जारी रखेंगे. PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here