दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस  के नए वेरिएंट का केस मिलने के बाद दुनियाभर में खलबली मच गई है. देश के वायरोलॉजिस्ट ट्यूलियो डी ओलिवेरा ने गुरुवार को मीडिया को बताया कि दक्षिण अफ्रीका  में मल्टीपल म्यूटेशन वाला कोविड वेरिएंट सामने आया है. इसके बाद यूनाइटेड किंगडम (UK) ने 6 अफ्रीकी देशों  से उड़ानों के अस्थायी निलंबन की घोषणा की है. उड़ानों को रद्द करने की जानकारी यूके के स्वास्थ्य सचिव साजिद जाविद ने दी. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है.जाविद ने कहा ट्वीट कर कहा, ‘यूकेएचएसए एक नए संस्करण की जांच कर रहा है और अधिक डेटा की आवश्यकता है लेकिन हम अभी सावधानी बरत रहे हैं.’ उन्होंने आगे कहा, ‘शुक्रवार दोपहर से छह अफ्रीकी देशों को रेड लिस्ट में जोड़ा जाएगा. उड़ानों पर अस्थायी रूप से प्रतिबंध लगा दिया जाएगा और ब्रिटेन के यात्रियों को क्वारंटीन में रहना होगा.’

दुनिया में अब तक कोरोना के 25.93 करोड़ केस, अमेरिका सबसे प्रभावित देश
कोरोना के नए वेरिएंट को वैज्ञानिकों ने इसे B.1.1.529 नाम दिया है और इसे वैरिएंट ऑफ कंसर्न बताया है. साथ ही WHO की इमरजेंसी मीटिंग बुलाने की मांग की है. ओलिवेरा ने आगे बताया कि दक्षिण अफ्रीका में कोरोना के नए मरीजों की बढ़ती संख्या के पीछे सबसे बड़ी वजह मल्टीपल म्यूटेशन वाला वेरिएंट ही है.यूके की स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी ने एक बयान में कहा, ‘वैरिएंट में बड़ी संख्या में स्पाइक प्रोटीन म्यूटेशन के साथ-साथ वायरल जीनोम के अन्य हिस्सों में म्यूटेशन शामिल हैं. ये संभावित रूप से जैविक रूप से महत्वपूर्ण म्यूटेशन हैं जो टीके, उपचार और ट्रांसमिशन के संबंध में वायरस के व्यवहार को बदल सकते हैं. इसके अधिक जांच की जरूरत है.’साजिद जाविद ने कहा, ‘हम सार्वजनिक स्वास्थ्य की रक्षा के लिए एहतियाती कार्रवाई कर रहे हैं. हम लगातार टीकाकरण अभियान को भी मजबूत कर रहे हैं. सर्दियों का मौसम आ रहा है, इसलिए हम स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं.’

हांगकांग और बोत्सवाना के यात्रियों की भी होगी जांच
इधर, भारत में भी दक्षिण अफ्रीका, हांगकांग और बोत्सवाना से आने वाले यात्रियों की कड़ाई से जांच करने के निर्देश जारी कर दिए हैं. केंद्र सरकार ने राज्यों को विशेष सतकर्ता बरतने के निर्देश दिए हैं. राज्यों से कहा गया है कि वे दक्षिण अफ्रीका, हांगकांग और बोत्सवाना से आने वाले यात्रियों की अच्छी तरह से जांच करें। किसी भी प्रकार की लापरवाही बिल्कुल न करें. PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here