Close X
Sunday, February 28th, 2021

WHO की सिफारिश के बाद गांजे का उपयोग अमेरिका में हुआ कानूनी

वॉशिंगटन । नशीले पदार्थों की श्रेणी में आने वाले गांजे के उपयोग को अमेरिका में वैध करार दिया गया है। अमेरिकी सांसदों ने पहली बार गांजे के इस्‍तेमाल को अपराध की श्रेणी से खत्‍म करने के ल‍िए मतदान किया है। डेमोक्रेटिक पार्टी के बहुमत वाले अमेरिकी संसद (कांग्रेस) के निचले सदन प्रतिनिधि सभा ने 228 के मुकाबले 164 वोटों से इस बदलाव को मंजूरी दे दी। निचले सदन से पारित होने के बाद भी इसके उच्‍च सदन सीनेट से पारित होने की संभावना बहुत कम है जहां पर‍ र‍िपब्लिकन पार्टी का बहुमत है।

प्रतिनिधि सभा के मंजूरी देने को अमेरिकी राज्‍यों और संघीय कानूनों में एकरूपता लाने की दिशा में एक बड़े कदम के रूप में देखा जा रहा है। अमेरिका के अलावा कई अन्‍य देशों ने भी गांजे के दवा के रूप में इस्‍तेमाल को मंजूरी दे दी है। इस बिल के पारित होने के बाद गांजे को संघीय कानून से हेरोइन और कोकिन जैसे खतरनाक कानूनों की लिस्‍ट से निकाल दिया जाएगा। संघीय कानूनों के मुताबिक इन खतरनाक मादक पदार्थों के इस्‍तेमाल पर अमेर‍िका में कड़े दंड का प्रावधान है। संघीय कानूनों के उलट अमेरिका के कई राज्‍यों में गांजे के दवा के रूप में इस्‍तेमाल को मंजूरी दी है। यही नहीं कोलोराडो जैसे कुछ राज्‍यों में तो गांजे के इस्‍तेमाल पर पूरी तरह से प्रतिबंध हटा ल‍िया गया है। अमेरिका में पिछले 5 दशक से गांजे के इस्‍तेमाल को मंजूरी देने की मांग उठ रही थी। बता दें क‍ि‍ संयुक्‍त राष्‍ट्र संघ में हुए ऐतिहासिक मतदान में भांग को अंतत: दवा के रूप में मान्‍यता दे दी गई है। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की ओर से सिफारिश के बाद संयुक्‍त राष्‍ट्र के मादक पदार्थ आयोग ने इसे मादक पदार्थों की सूची से हटा दिया है। इससे पहले ऐसा कहा जाता था कि भांग का स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से बहुत कम फायदेमंद है। संयुक्‍त राष्‍ट्र के मादक पदार्थो की सूची में हेरोइन के भांग भी शामिल थी। पीएलसी।PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment