देश आज 13 साल पुराने आतंकी हमले में शहीदों और मारे गए गए नागरिकों को याद कर रहा है. 13 साल पहले देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में कई जगहों पर हमले हुए. इसमें 166 लोग मारे गए और 293 अन्य घायल हो गए. इस हमले में 18 सुरक्षाकर्मी भी शहीद हुए थे. शुक्रवार को विदेश मंत्री जयशंकर  ने 26/11 के हमले को याद करते हुए ट्वीट किया. अपने ट्वीट के जरिए उन्होंने पड़ोसी पाकिस्तान का नाम लिए बिना उसकी आतंकी नीतियों पर निशाना साधा है. मुंबई हमले की एक तस्वीर ट्वीट कर जयशंकर ने लिखा- ‘कभी नहीं भूलेंगे.’ जयशंकर ने जो ट्वीट किया है उसमें  ताज होटल की इमारत से धुंआ निकल रहा है.
इससे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शहीदों को नमन किया. राष्ट्रपति भवन के ट्विटर अकाउंट पर लिखा गया – ‘शहीदों और 26/11 के मुंबई आतंकवादी हमलों के पीड़ितों को श्रद्धांजलि.  कर्तव्य पथ पर अपने प्राणों की आहुति देने वाले सुरक्षा बलों की बहादुरी और बलिदान के लिए राष्ट्र हमेशा आभारी रहेगा.’रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लिखा- मुंबई पर 26 नवंबर को हुए आतंकी हमले की 13वीं बरसी पर, हम उन मासूमों  को याद करते हैं जिन्हें हमने खो दिया. उन हमलों में जान गंवाने वाले सभी लोगों को मेरी श्रद्धांजलि. हमारे सुरक्षा बलों ने 26/11 के हमलों के दौरान अनुकरणीय साहस का परिचय दिया. मैं उनकी बहादुरी और बलिदान को सलाम करता हूं.

गृह मंत्री ने भी दी श्रद्धांजलि
गृहमंत्री अमित शाह ने लिखा – मुंबई 26/11 आतंकी हमलों में जान गंवाने वालों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि देता हूँ और उन सभी सुरक्षाकर्मियों के साहस को सलाम करता हूं, जिन्होंने कायरतापूर्ण हमलों में आतंकवादियों का डटकर सामना किया. पूरे देश को आपकी वीरता पर गर्व रहेगा.  कृतज्ञ राष्ट्र सदैव आपके बलिदान का ऋणी रहेगा.इससे पहले भाजपा नेता संबित पात्रा ने ट्वीट किया- मुंबई में 26/11 के आतंकवादी हमले में सभी शहीदों को विनम्र श्रद्धांजलि और बहादुर सुरक्षा कर्मियों को सलाम जिन्होंने बहादुरी से हमले का सामना किया. कांग्रेस पार्टी के ट्विटर अकाउंट से लिखा गया –  ‘हम उन सभी पीड़ितों और शहीदों को श्रद्धांजलि देते हैं जिन्होंने 2008 में भीषण मुंबई हमलों के दौरान अपनी जान गंवाई. आतंक भारत की एकता और ताकत को नहीं तोड़ सकता.’ PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here