Jamiat Ulema A Hind

विधेयक भारतीय संविधान की आत्मा के विरुद्ध 

फैसला न समझ में आने वाला

जमीअत उलमा ए हिन्द ने अमरनाथ यात्रियों पर हमले की कड़ी निंदा करते हुए इसे बर्बर और क्रूर अमल क़रार दिया