Ghanshyam indian

स्मृति शेष: महेंद्रनाथ श्रीवास्तव -  इक शख्स सारे शहर को वीरान कर गया