मुनि तरूणसागर

तलाश को अपने भीतर निरंतर जीवित रखना कोई साधारण बात नहीं