Close X
Thursday, January 20th, 2022

तो फरवरी तक पांच लाख और लोगों की महामारी के कारण मौत हो सकती है : WHO

कोरोना  महामारी फिर से दुनिया के लिए चिंता का विषय बन गई है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी देते हुए कहा है कि 53 देशों में कोरोना की नई लहर आ सकती है. WHO के क्षेत्रीय कार्यालय के प्रमुख डॉ. हैन्स क्लेज ने गुरुवार को कहा कि कुछ देशों में मामलों की संख्या फिर से करीब-करीब रिकॉर्ड स्तर तक बढ़ने लगी है और प्रसार की रफ्तार गंभीर चिंता का विषय है. ऐसे में कोरोना की नई लहर की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता.


WHO अधिकारी ने यह कहकर चिंता बढ़ा दी है कि ऐसा ही रहा तो फरवरी तक पांच लाख और लोगों की महामारी के कारण मौत हो सकती है. उन्होंने कहा कि यूरोप और मध्य एशिया के 53 देशों में कोरोना वायरस की एक और लहर आने का खतरा है. डॉ. हैन्स क्लेज ने डेनमार्क के कोपनहेगन में संगठन के यूरोप मुख्यालय में पत्रकारों से कहा, 'हम महामारी के उभार को लेकर एक अहम मोड़ पर खड़े हैं. यूरोप फिर से महामारी के केंद्र में है जहां हम एक साल पहले थे.'

Vaccination की धीमी रफ्तार दोषी
डॉ. क्लेज ने कहा कि पहले और मौजूदा स्थिति में फर्क बस यह है कि स्वास्थ्य अधिकारियों को वायरस के बारे में ज्यादा जानकारी है और उनके पास इससे मुकाबला करने के लिए बेहतर उपकरण हैं. उन्होंने कहा कि वायरस के फैलाव को रोकने वाले उपायों और कुछ क्षेत्रों में टीकाकरण की कम दर बताती है कि मामले क्यों बढ़ रहे हैं. डॉ. क्लेज ने कहा कि पिछले एक हफ्ते में 53 देशों में कोविड के कारण लोगों के अस्पताल में भर्ती होने की दर दोगुनी से ज्यादा बढ़ी है.

लापरवाही बरतने लगे हैं लोग
WHO ने कहा कि अगर यह स्थिति जारी रहती है तो फरवरी तक पांच लाख और लोगों की महामारी के कारण मौत हो सकती है. 53 देशों के एक बड़े इलाके में साप्ताहिक मामले करीब 18 लाख आए हैं, जो पिछले हफ्ते की तुलना में छह प्रतिशत अधिक हैं. जबकि साप्ताहिक तौर पर 24,000 मौतें हुईं, जिसमें 12 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. बता दें कि कोरोना महामारी को लेकर लोग फिर से लापरवाही बरतने लगे हैं. मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का कोई पालन करना नहीं चाहता. PLC

Comments

CAPTCHA code

Users Comment