Close X
Monday, November 30th, 2020

5 अक्टूबर को प्रदेशभर में मौन धरना

भोपाल.कांग्रेस के नेता एनपी प्रजापति ने प्रदेश में बढ़ते गैंगरेप के मामले पर सरकार पर निशाना साधा है. सतना में दलित युवक की पिटाई के बाद अब तक हुए गैंगरेप के मामलों को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी सरकार की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं.
कांग्रेस नेता एनपी प्रजापति ने कहा है कि प्रदेश में पुलिस अफसरों के तबादलों के कारण इस तरह की घटनाएं बढ़ रही हैं. प्रशासनिक तबादलों के चलते गैंगरेप के मामले हो रहे हैं और मामलों पर अफसर सुनवाई नहीं कर रहे हैं. प्रदेश में पुलिस की नैतिकता खत्म होने का आरोप भी कांग्रेस ने लगाया है.

उत्तर प्रदेश के हाथरस में दलित युवती के साथ हुए रेप के बाद मध्य प्रदेश में भी दलित महिला से गैंगरेप  के मामले को लेकर सियासत गर्म है. नरसिंहपुर के चिचली थाना क्षेत्र में 35 साल की दलित महिला से गैंगरेप और सुनवाई नहीं होने पर सुसाइड के मामले में कांग्रेस अब सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी में है. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने दुष्कर्म के मामले के विरोध में 5 अक्टूबर को प्रदेशभर में मौन धरना देने का ऐलान किया है.

कांग्रेस कमेटी ने 5 अक्टूबर को गांधी और बाबा साहब अंबेडकर की प्रतिमा पर मौन धरना देने का ऐलान किया है. सभी जिला इकाइयों को इस संबंध में पीसीसी ने निर्देश जारी कर दिए हैं. यूपी के हाथरस और नरसिंहपुर की घटना के विरोध में कांग्रेसियों का मौन धरना होगा. वहीं प्रदेश में बढ़ते गैंगरेप के मामले को लेकर कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर हो गई है.

कांग्रेस विधायक सुनीता पटेल ने खत्म किया धरना

नरसिंहपुर से एडिशनल एसपी राजेश तिवारी को हटाने की मांग को लेकर बीते 13 दिनों से धरने पर बैठी कांग्रेस विधायक सुनीता पटेल ने अपना धरना खत्म कर दिया है. गाडरवारा से कांग्रेस विधायक सुनीता पटेल ने एएसपी  राजेश तिवारी पर इलाके में अराजकता फैलाने और अवैध खनन को संरक्षण देने का आरोप लगाया था. इसी के चलते कांग्रेस विधायक बीते 13 दिनों से भोपाल में धरने पर बैठी थी. लेकिन नरसिंहपुर में गैंगरेप के मामले को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के एएसपी और एसडीओपी पर की गई कार्रवाई के बाद सुनीता पटेल ने अपना धरना खत्म कर दिया. PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment