शहीद आदिल अब्बास को मिलेगा वीरता के लिये पुलिस पदक – आतंकवादियों के कर दिए थे हौसले पस्त

2
53

Adil Abbas of 98 Bn BSFआई एन वी सी न्यूज़
नई दिल्ली,

सन् 2014 में सीमा सुरक्षा बल की 98वीं बटालियन पूर्वाेत्तर के त्रिपुरा राज्य में भारत-बांग्लादेष अंतर्राश्ट्रीय सीमा पर तैनात थी।

इस इलाके में बाॅर्डर फेंसिग लगाने और बाॅर्डर रोड के निर्माण का काम चल रहा था। इस निर्माण कार्य में लगे मजदूरों और कारीगरों के आतंकवादी संगठन एन.एल.एफ.डी.(बी.एम.) से सुरक्षा के मद्देनजर सीमा सुरक्षा बल इस कंपनी को सुरक्षा मुहैया करवा रहा था।

दिनांक 17 नवम्बर 2014 को निर्माण कंपनी का एक टैंकर, जिसका नम्बर निर्माण कार्यों में पानी  की सप्लाई कर रहा था। सीमा सुरक्षा बल के मुख्य आरक्षक आदिल अब्बास इस टैंकर के गार्ड के रूप में टैंकर के साथ तैनात थे।

दिनांक 17 नवम्बर 2014 को ही सुबह के 1010 बजे अचानक इसके ऊपर आतंकवादियों ने भारी मात्रा में फायर डाला। यह फायर उग्रवादी संगठन एन.एल.एफ.डी.(बी.एम.) के उग्रवादियों ने किया था, जो फेंसिंग की दूसरी तरफ बैठे थे।

इस फायर के दौरान ड्राइवर और सह चालक के साथ मुख्य आरक्षक आदिल अब्बास को भी गोलियां लगीं।

किंतु गोलियों से जख्मी होने के बावजूद आदिल अब्बास हौसला बुलंद करते हुए आतंकवादियों से लोहा लेने लगे।

अब्बास की इस दिलेरी और बहादुरी को देखते हुए आतंकवादियों के हौसले पस्त हो गये। वे मैदान छोड़कर भागने को मजबूर हो गये। इस प्रकार आदिल अब्बास की हिम्मत और उच्च कोटि की कत्र्तव्यपरायणता की वजह से आतंकवादियों के नापाक मंसूबों

पर पानी फिर गया और ड्राइवर और सहचालक के अपहरण के साथ ही हथियारों की लूट करने की उनकी योजना धरी की धरी रह गई।

इस मुठभेड़ में आदिल अब्बास और चालक दल बुरी तरह जख्मी हो गया था। तत्काल ही उन्हें एयर फोर्स के हेलिकाॅप्टर से अगरतला अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में डाॅक्टरों ने देखते ही ड्राइवर को मृत घोशित कर दिया। जबकि उसी दिन, कुछ समय बाद मुख्य आरक्षक आदिल अब्बास की भी सांसें उखड़ गईं और वे वीरगति को प्राप्त हुए।

इस प्रकार स्वर्गीय आदिल अब्बास ने जिस बहादुरी और साहस के साथ आतंकवादियों से लड़ते हुए उनके अम्बुष को विफल किया, वह सबके लिये अनुकरणीय है। उनकी बहादुरी, साहस और उच्च कोटि की कर्तव्यपरायणता की मान्यता स्वरूप भारत सरकार ने  मरणोपरांत उन्हें ‘वीरता के लिये पुलिस पदक’ से सम्मानित किया।

2 COMMENTS

  1. Bhagban aapki Aatma ko shanti de Aur
    Aap ke pribar ko is shock se bahr aane b jiban ki chunautiyon se ladne ki himmat.de.

  2. shahid adil abbas tumhen hamara salam allah tumhare bibi bachoon ko salamat rakhe tumhe jannat mea aala muqam mila hamari yahi dua hai.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here