सावन शनिवार और हनुमान चालीसा पाठ करने के लाभ ,हनुमान जी इस युग में साक्षात है , हनुमान चालीसा का पाठ – भजन अत्यंत शक्तिशाली माना जाता है. इसमें वह ताकत है जो बुराइयों को दूर भगा सकती है और व्यक्ति में आत्मविश्वास ला सकती है. हनुमान की मान्यता भारत के विभिन्न कोनों में देखी गई है. विशेष रूप से उनके भक्त हर जगह मौजूद हैं, जिन्हें हनुमान चालीसा की शक्ति में विश्वास है. वह राम के सबसे मजबूत भक्त हैं, वानरराज भी हैं. उनकी शक्ति और समर्पण की दिव्य प्रकृति ने ही उन्हें शक्ति और संकटों को दूर करने वाला देव बना दिया है. उन्हें भगवान शिव का अवतार भी माना जाता है. इसलिए हनुमान चालीसा में शनि के प्रभाव को कम करने की क्षमता है. यहाँ मुख्य कारण है कि इसे एक शक्तिशाली भजन माना जाता है.हनुमान चालीसा जो सभी बुराइयों पर विजय प्राप्त कर सकती है. शिव के अवतार या राम के परम भक्त हनुमान धैर्य, प्रतिबद्धता और भक्ति के वाहक हैं इसलिए, सूक्तों में बुद्धि और धैर्य की शक्ति प्राप्त करने के लिए पाठ करने का उल्लेख है.

हनुमान चालीसा का पाठ करने के लाभ

हनुमान चालीसा का पाठ करने का लाभ आध्यात्मिक मान्यताओं के अनुसार विशेष रहा है. इसके पाठ जाप द्वारा कठिनाइयों और बाधाओं का सामना करने का साहस प्राप्त होता है. जीवन में प्रत्येक स्थिति से निपटने में कामयाबी हासिल होती है. साहस और शक्ति के देवता हनुमान का आशीर्वाद सदैव प्राप्त होता है. जीवन में चीजों को उचित रुप से करने की क्षमता विकसित होती है. इस पाठ में उनके ज्ञान के बारे में बताता है कि समुद्र जितना गहरा है, बुद्धि ने पूरे ब्रह्मांड को गौरवान्वित किया है. अपने भक्तों द्वारा इन शक्तिशाली भजनों का पाठ करने से उन्हें बाधाओं से मुक्ति मिलती है.

आत्म-नियंत्रण विकसित करने में मिलती है मदद

जीवन में आत्म नियंत्रण ही हमारे आगे बढ़ने की सबसे पहली सीढ़ी रहा है. विकास के लिए आत्म-नियंत्रण एक आवश्यकता है. इसके अलावा, आक्रामकता एवं क्रोध में कमी भी आत्म-नियंत्रण की एक विशेषता है. हनुमान चालीसा के भजन द्वारा आत्म-नियंत्रण में सुधार करने में मदद मिलती है. जीवन की कठिन परिस्थितियों को दूर करना आवश्यक है, चाहे वह कोई भी बाधा या कठिनाई हो, आत्मविश्वास की भावना में कमी या कोई आक्रामक प्रकृति उसे बनाए रखना संभव नहीं बनाती है. इसलिए आत्म-नियंत्रण की ताकत हमें ध्यान केंद्रित करने, बेहतर निर्णय लेने और स्थितियों को आसानी से संभालने में मदद करती है.

शांत और तनावमुक्त होते हैं

हनुमान चालीसा प्रकृति में शांत और तनावमुक्त रहने के लिए एक अत्यंत ही महत्वपूर्ण विद्या है. शांत रहने का विचार बेहतर सोचने में मदद करता है. यह प्रभावी निर्णय लेने में सक्षम बनाता है जो बाधाओं या कठिनाइयों पर काबू पाने की कुंजी है. बुरे समय के मूल में भी, भजनों का पाठ मन की शांति के लिए बहुत सहायक बनता है. ध्यान केंद्रित रखना और पूर्ण प्रयास करने के लिए काम करना ही व्यक्ति का मुख्य उद्देश्य होता है. तभी व्यक्ति कठिनाइयों से उबर सकता है और चतुराई से समस्याओं को दूर कर सकता है.यह सभी गुण हमें हनुमन चालिसा से प्राप्त होते हैं. PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here