Close X
Tuesday, October 20th, 2020

सलमान खान की जमानत पर हिन्दू महासभा को हुआ आश्चर्य - ट्रायल पर अब रहेगी नज़र

chaderprakashkaushikआई एन वी सी न्यूज़ , नई दिल्ली, आरएसएस की जननी अखिल भारत हिन्दू महासभा ने सलमान खान की जमानत पर आश्चार्य प्रकट किया हैं ! हिन्दू महासभा इस जमानत को  ख़ास व्यक्ति का  न्याय वयवस्था पर  प्रभाव के साथ तुलनातमक नजरिया से  देख रही हैं ! गौरतलब हैं की सलमान खान नरेद्र मोदी के करीबी फ़िल्मी सितारों में एक हैं ! अखिल भारत हिन्दू महासभा  ने को यही बात अब खलने लगी हैं और साथ ही न्याय व्यवस्था पर भी सवाल खड़े कर रहीं हैं !

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश कौशिक एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने एक संयुक्त वक्तव्य जारी करके सलमान खान को महाराष्ट्र उच्च न्यायालय द्वारा तीन घंटे से भी कम समय में ज़मानत दिए जाने को आश्चर्य उत्पन्न करने वाला बताया है. गौरतलब है कि शराब पीकर, बिना ड्राइविंग लाइसेंस के ओवर स्पीड में गाड़ी चलाने वाले सलमान खान सेशन कोर्ट द्वारा गैर इरादतन हत्या के दोषी साबित हो चुके हैं और उन्हें कोर्ट द्वारा 5 साल की सजा सुनायी जा चुकी है. राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कौशिक ने भाजपा और कांग्रेस को याद दिलाया कि वह गरीबों की राजनीति करने का दावा करती हैं, किन्तु अल्पसंख्यक राजनीति के कारण किसी दल के प्रवक्ता ने सलमान की ज़मानत का विरोध नहीं किया, जिससे साबित होता है कि सलमान की गाड़ी के नीचे आकर जिस गरीब की जान गयी, उसकी जान की कोई कीमत इन दलों के राजनेता नहीं समझते हैं. राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने कहा कि इस केस में वरिष्ठ वकीलों द्वारा कोर्ट को जिस प्रकार से गुमराह करके ज़मानत ली गयी है, वह कानून का मजाक उड़ाने जैसा विषय है. ऐसा प्रतीत होता है कि इस देश में अमीर और बड़े लोगों के लिए अलग कानून है, जबकि गरीबों के लिए अलग कानून. हिन्दू महासभा के नेताओं ने बॉलीवुड और उन मीडिया घरानों की कड़ी निंदा की, जो सलमान खान के प्रति सहानुभूति का वातावरण निर्मित करके उनके अपराध को कमतर दिखाने में लगे हुए हैं. ऐसा प्रदर्शित किया जा रहा है, जैसे सलमान खान कोई धर्मात्मा हैं, इसलिए किसी की जान लेना भी उनके लिए कोई गुनाह नहीं है. हिन्दू महासभा के केंद्रीय पदाधिकारियों ने इस मामले में त्वरित और निष्पक्ष न्याय न होने की स्थिति में आंदोलन करने का आह्वान किया !

Comments

CAPTCHA code

Users Comment