Tuesday, April 7th, 2020

RIT का दम - विद्यालय बन्द, मान्यता हुई निरस्त

आई एन वी सी न्यूज़

लखनऊ  , सूचना का अधिकार अधिनियम-2005 के तहत बरेली निवासी श्री राजीव कुमार ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, रामपुर को प्रार्थना-पत्र देकर जानकारी मांगी कि बी0एस0ए0 कार्यालय द्वारा के0पी0एम0 आदर्श विद्यालय शाहबाद को किस कक्षा तक मान्यता प्रदान की गयी है, मान्यता स्थाई है, या अस्थाई किस प्रकार से दी गयी है, क्या विद्यालय संचालित करते समय विद्यालय का नक्शा पारित किया गया था, आदि की प्रमाणित छायाप्रतियाॅ उपलब्ध करायी जायें। मगर इस सम्बन्ध में विभाग द्वारा वादी को कोई सूचना नहीं दी गयी। जानकारी न मिलने पर वादी ने अधिनियम के तहत राज्य सूचना आयोग में अपील दाखिल कर सम्बन्धित मामलों की जानकारी चाही है।
राज्य सूचना आयुक्त श्री हाफिज उस्मान ने जनसूचना अधिकारी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, रामपुर को सूचना का अधिकार अधिनियम-2005 की धारा 20 (1) के तहत नोटिस जारी कर आदेशित किया कि वादी द्वारा उठाये गये बिन्दुओं की सभी सूचनाएं अगले 30 दिन के अन्दर अनिवार्य रूप से वादी को उपलब्ध कराते हुए, मा0 आयोग को अवगत कराये, अन्यथा जनसूचना अधिकारी स्पष्टीकरण देंगे कि वादी को सूचना क्यों नहीं दी गयी है, क्यों न उनके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जाये।
श्री देवेन्द्र सिंह सह-ब्लाक समन्वक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, रामपुर उपस्थित हुए, उनके द्वारा मा0 आयोग को लिखित तौर पर बताया गया है कि के0पी0एम0 आदर्श विद्यालय अनवा टाण्डा शाहबाद, रामपुर वर्ष 2015 में एक घर में संचालित किया गया था। इस विद्यालय के प्रबन्धक द्वारा मान्यता हेतु विभाग से संपर्क नहीं किया गया, और स्थलीय जांच करने पर यह ज्ञात हुआ कि इस विद्यालय का भवन भी मानक अनुसार नहीं है, अतः इस विद्यालय को अविलम्ब बन्द करा दिया गया है, वर्तमान में यह विद्यालय संचालित नहीं है, इस आशय की जानकारी प्रतिवादी ने मा0 आयोग को दी है, जो पटल पर मौजूद है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment