रवि पुष्य योग दिसंबर 2022 – शादियों, शुभ कार्य और खरीदारी के लिए है सर्वोत्तम

ज्योतिष शास्त्र में अनेक शुभ और अशुभ योग हैं पर रवि पुष्य योग का महत्व सबसे महत्वपूर्ण हैं , रवि पुष्य योग शादियों, शुभ कार्यो और त्योहारों के लिए खरीदारी करने के लिए है सर्वोत्तम  क्यों माना गया हैं इसके बारे में देते हैं संपूर्ण जानकारी

सबसे पहले जाने की रवि पुष्य योग क्या है?

रवि पुष्य योग ज्योतिष शास्त्र में अत्यधिक महत्वपूर्ण  माना जाने वाला योग है। पुष्य एक शुभ नक्षत्र है और जब यह रविवार को पड़ता है तो यह अत्यधिक शुभ ” रवि पुष्य योग ” बनाता है।

जाने की रवि पुष्य योग क्या क्या होता है

ज़्यादातर लोग रवि पुष्य योग में शादियों, शुभ कार्यो  और त्योहारों के लिए खरीदारी करने के लिए रवि पुष्य योग पसंद करते हैं क्योंकि यह समय सभी प्रकार की नई वस्तुओं को खरीदने के लिए शुभ माना जाता है।

रवि पुष्य योग और  देवी लक्ष्मी

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार रवि पुष्य योग में  नई वस्तुओं के साथ-साथ देवी लक्ष्मी का आगमन होता है और वह लंबे समय तक घर में निवास करती हैं।

रवि पुष्य योग में क्या खरीदे

रवि पुष्य योग नई कार या कोई अन्य वाहन, सोने और हीरे के आभूषण, घरेलू और इलेक्ट्रॉनिक सामान खरीदने के लिए भी अच्छा माना जाता है। इस दिन कोई नया उपक्रम भी शुरू किया जा सकता है। ऐसा माना जाता है कि इस दौरान शुरू किए गए सभी नए कार्य पूरे होते हैं और सकारात्मक परिणाम देते हैं।

रवि पुष्य योग साल में कितनी बार आता  हैं

रवि पुष्य योग एक वर्ष में केवल दो या तीन बार ही बनता है। रवि पुष्य योग को रवि पुष्य नक्षत्र योग के नाम से भी जाना जाता है।

रवि पुष्य योग ,  रविवार 11 दिसम्बर 2022 08:36 PM से 12 दिसम्बर 07:04  AM तक रहेगा , आप चाहे तो इस सुबह समय का लाभ उठा सकते हैं साथ अपने दोस्तों को ,घर परिवार के अन्य सदस्यों को भी इसके बारे में बता सकते हैं

रवि पुष्य योग  की महिमा अपरम्पार हैं ,रवि पुष्य योग में किए गए कार्य हमेशा शुभता प्रदान करते हैं साथ ही दुख के कारणों को भी समाप्त करते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here