Close X
Saturday, October 31st, 2020

राधे मां के समर्थन में उतरे हिन्दू संगठन

राधे मां व हिन्दू सन्तों को बदनाम करने के पीछे आतंकवादी मिश्निरी ताकतें -हिन्दू संगठन

Radhe Maa scamआई एन वी सी न्यूज़ नई दिल्ली,

हिन्दू महासभा,दारा सेना,ओजस्वी पार्टी आदि हिन्दू संगठनों द्वारा प्रेस क्लब में  आयोजित पत्रकार सम्मेलन में हिन्दू संगठनों ने राधे मां का खुलकर समर्थन किया। हिन्दू संगठनों ने राधे मां,उडीसा के सारथी बाबा,पूज्य आसाराम बापू जी,नारायण साईं जी आदि सन्तों के चरित्र हनन् को साजिश और विदेशीिि आतंकवादी मिश्नरियों द्वारा प्रायोजित बताया।

प्रेस क्लब में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री चन्द्र प्रकाश कौशिक जी ने कहा कि सच्चाई से कोसो दूर एक सोची समझी साजिश के तहत राधे मां जैसी देवी की छवि मलिन की जा रही है। देवी की चैाकी में राधे मां पर देवी की सवारी का आना हिन्दू धर्म की आस्था का ही एक बडा हिस्सा है, जिस पर उंगली उठाना हिन्दुत्व पर हमला करना है। जिसे किसी भी हालत में बर्दास्त नही किया जायेगा। श्री कौशिक ने हिन्दू संगठनों और हिन्दुओं को हिदायत भी दी कि वो इस साजिश का किसी भी प्रकार से हिस्सा न बने अन्यथा हिन्दू महासभा ऐसे हिन्दुओं के खिलाफ भी कठोर कार्यवाही करेगी।

पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए धर्म रक्षक श्री दारा सेना के राष्ट्रीय  अघ्यक्ष और ओजस्वी पार्टी के राष्ट्रीय राजनीतिक सलाहकार श्री मुकेश जैन ने कहा कि अमेरीकी खुफिया एजेन्सी सी आइ ए ने फोर्ड फाउन्डेशन के जरिये मीडिया और अदालती कार्यो में हस्तक्षेप करने के लिये करोडों डालरों की बन्दरबांट की है। मीडिया मैन मनीश सिसौदिया,राजदीप सरदेसाई,दीपक चैरसिया,अन्जना ओम कश्यप, वकील इन्दिरा जयसिंह,प्रशान्त भूषण, दिल्ली विश्व विद्यालय के नक्सली मिश्निरी आतंकवादी प्रोफेसर नलिनी सुन्दर, जी. साईं बाबा आदि को सन्तों को बदनाम करने और भारत को को तोडने के लिये अरबो डालर दिये जा रहे है। जिसके बलबूते पर भारत कों बर्बाद करने के लिये प्रायोजित कार्यक्रम चलाये जा रहे है। यह सब सी आइ ए की 2050 तक पूर्वी और पूर्वोत्तर भारत को काट कर एक अलग ईसाई देश बनाने की बडी साजिश का ही हिस्सा है। हाल ही में पूज्य आसाराम बापू जी के आश्रमों और उनमें जाने वाले भक्तों पर आतंकवादी अमेरीकी मिश्नरियों के पाले नक्सली ईसाई आतंकवादियों ने जो हमले और फरमान जारी किये हैं,यह सब आदिवासियों को जबरदस्ती ईसाई बनाने की साजिश का ही एक हिस्सा है।

पत्रकार वार्ता में हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महामंत्री श्री मुन्ना शर्मा जी ने इसी 8 अगस्त को राची से 30 किलोमीटर दूर के एक ईसाई बहुल गांव कंजिया मारिया टोला में पादरी द्वारा जारी  शिव पूजा न करने के फरमान को न मानने वाली 5हिन्दू महिलाओं को चर्च के पादरियों द्वारा 200 ईसाईयों के साथ मिलकर पीट-पीटकर मार डाला। श्री शर्मा ने इस विभीत्स सामूहिक हत्या पर मीडिया की खामोशी पर सवाल खडा किया। श्री मुन्ना शर्मा ने कहा कि देश में इतना बडा हत्या काण्ड होने के वाद भी भारत के cMs मीडिया के एक बर्ग की ब्रकिंग न्यूज हिन्दू देवी राधे मां पर लगा दहेज मांगने का मामूली आरोप और अलका लाम्बा के सिर पर लगा मामूली पत्थर होना साबित करता है कि भारत के मीडिया का यह वर्ग ईसाईयत के अत्याचारों को कितनी बखूबी छिपा रहा है। श्री शर्मा ने इस प्रकार के आतंक में लिप्त ईसाई पादरियों का मीडिया ट्रायल न करने पर सवाल खडा करते हुए देशभक्त मीडिया से अपील की कि वह आतंकवादी मिश्निरियों के आतंकवाद और ईसाई न बनने पर हिन्दुओं को डायन के नाम पर जिन्दा जलाने के प्रति सजग रहे अन्यथा ईसाईयत के इन अत्यावारों पर उनकी खामोशी से देश को फिर से अंग्रेजों का गुलाम बनने में ज्यादा बक्त नहीं लगेगा।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment