Close X
Tuesday, October 26th, 2021

मुसलमानों की समस्याएं तभी हल होंगी जब उनका नेता होगा

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुदीन ओवैसी ने समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की आलोचना की और कहा कि दोनों दलों ने अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के जीवन स्तर को सुधारने के लिए कुछ नहीं किया। एक निजी टेलीविजन चैनल के कार्यक्रम में एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा कि गैर-भाजपा दल खुद को बड़ा हिंदू साबित करने के लिए भगवा दलों के साथ दौड़ रहे हैं। ओवैसी ने कहा बसपा और सपा ने मिलकर 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ा और 75 प्रतिशत मुस्लिम वोट हासिल किए, वहीं मोदी के नेतृत्व में भाजपा को 71 प्रतिशत वोट मिले तब भी दोनों दल उन्हें सरकार बनाने से नहीं रोक पाए।
मुसलमानों की समस्याएं तभी हल होंगी जब उनका नेता होगा। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साढ़े चार साल के शासन के दौरान कोई दंगा नहीं होने के दावे को खारिज किया और कहा कि 2019 की एनसीआरबी की रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्य में 5,819 सांप्रदायिक झगड़े हुए। दिल्ली में अपने घर पर हुए हमले पर ओवैसी ने कहा कि घटना पुलिस थाने से कुछ ही दूरी पर हुई और यह अल्पसंख्यक समुदाय को चुप कराने की कोशिशों का हिस्सा है। PLC

Comments

CAPTCHA code

Users Comment