Close X
Friday, January 28th, 2022

दिल्ली में प्रदूषण खतरनाक स्तर पर - कई स्थानों पर दृश्यता 200 मीटर तक कम हो

राजधानी दिल्ली में सर्दी का सितम शुरू हो गया है। न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 12.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और हवा की गति कम होने के चलते प्रदूषण कारक तत्वों की मात्रा अधिक रही। शहर में गुरुवार को भी न्यूनतम तापमान 12.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जो इस मौसम का सबसे कम तापमान था। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है। सुबह साढ़े आठ बजे हवा में आर्द्रता का स्तर 93 प्रतिशत रहा। सफदरजंग और पालम मौमस निगरानी केन्द्रों में सुबह साढे़ पांच बजे दृश्यता क्रमश: 200 मीटर और 500 मीटर रही। एक अधिकारी ने कहा, “इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे और सफदरजंग हवाई अड्डे पर कोहरे के कारण दृश्यता 300-500 मीटर रही। आर्द्रता अधिक होने की वजह से शुक्रवार को कोहरा और घना हो गया। आईएमडी के अनुसार, शून्य से 50 मीटर के बीच दृश्यता होने पर कोहरा 'बेहद घना', 51 से 200 मीटर के बीच 'घना', 201 से 500 के मीटर के बीच 'मध्यम' और 501 से 1000 के बीच दृश्यता होने पर कोहरे को 'हल्का' माना जाता है। दिल्ली-एनसीआर में छाई आंखों में चुभने वाली धुंध की परत शुक्रवार को और घनी हो गई जिससे सूरज की रोशनी नारंगी दिखने लगी और नवंबर की शुरुआत से ही प्रदूषण के खतरनाक स्तर से जूझ रहे क्षेत्र के कई स्थानों पर दृश्यता 200 मीटर तक कम हो गई। दिल्ली में दिवाली के बाद पिछले सात दिनों में से पांच दिन गंभीर वायु गुणवत्ता दर्ज की गई है। PLC

Comments

CAPTCHA code

Users Comment