Close X
Thursday, July 29th, 2021

जम्मू-कश्मीर में सियासी हलचल तेज

श्रीनगर| जम्मू-कश्मीर के नेताओं के साथ 24 जून को प्रधानमंत्री मोदी एक बैठक करने वाले हैं. उससे पहले शनिवार को महबूबा मुफ्ती के मामा और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के नेता सरताज मदनी को रिहा कर दिया गया. सरताज मदनी पिछले 6 महीने से नजरबंदी में थे. उनकी रिहाई पर पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती ने बाकियों की रिहाई की मांग भी की.

महबूबा ने ट्वीट कर लिखा, "राहत की बात है कि पीडीपी के नेता सरताज मदनी को 6 महीने तक गलत तरीके से हिरासत में रखने के बाद आज आखिरकार रिहा कर दिया गया. अब समय आ गया है कि भारत सरकार जम्मू-कश्मीर की जेलों के अंदर और बाहर सड़ रहे राजनीतिक बंदियों को रिहा करे. एक महामारी उन्हें रिहाई करने का कारण होनी चाहिए थी."

जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक अनिश्चितता के माहौल को दूर करने के लिए 24 जून को पीएम मोदी ने ऑल पार्टी मीटिंग बुलाई है. ये मीटिंग दिल्ली में 24 जून को होगी. इसके लिए 14 नेताओं को फोन किया जा चुका है. इन सभी से आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट लाने को भी कहा गया है.
पीएम के साथ होने वाली इस मीटिंग में महबूबा मुफ्ती शामिल होंगी या नहीं, इसके लिए वो आज पार्टी के नेताओं के साथ एक मीटिंग करने जा रही हैं. महबूबा ने बताया, "पीएम के साथ बातचीत को लेकर अभी कोई एजेंडा साफ नहीं है. हालांकि, मैंने अपनी पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर्स कमेटी (पीएसी) से इस पर चर्चा करने के लिए बैठक करने को कहा है."

5 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर को खास दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 को हटा दिया गया था. उसके बाद से यहां राजनीतिक अस्थिरता का माहौल बना हुआ है. आर्टिकल 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर के नेताओं के साथ बातचीत की ये केंद्र की बड़ी पहल है PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment