कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में लिए जाने को गैरकानूनी कदम करार देकर कहा कि तथ्यों से साबित होता है कि उत्तर प्रदेश में कानून का राज नहीं है। चिदंबरम ने कहा कि वहां मुख्यमंत्री योगी का अपना कानून चल रहे है। पूर्व गृहमंत्री ने कहा, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में लिया जाना और उनकी गिरफ्तारी पूरी तरह गैरकानूनी और सत्ता का दुरुपयोग है.’
चिदंबरम के मुताबिक, ‘गिरफ्तार करने वाले पुलिस अधिकारी ने उन्हें (प्रियंका) बताया कि उन्हें दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 151 के तहत गिरफ्तार किया गया है।जबकि इस धारा के तहत गिरफ्तार किसी व्यक्ति को 24 घंटे से ज्यादा हिरासत में नहीं रखा जा सकता, जब तक कि न्यायिक मजिस्ट्रेट की ओर से कोई आदेश नहीं आया हो। उन्होंने दावा किया कि उनकी ‘गिरफ्तारी’ दंड प्रक्रिया संहिता के कई प्रावधानों का उल्लंघन है।
कांग्रेस नेता ने कहा, किसी भी महिला को शाम के बाद और सूर्योदय से पहले गिरफ्तार नहीं किया जा सकता। जबकि प्रियंका गांधी को भोर में 4.30 बजे गिरफ्तार किया,उन्हें एक पुरुष अधिकारी ने गिरफ्तार किया, जो गैरकानूनी है।
चिदंबरम ने आरोप लगाया, ‘ऐसा लगता है कि उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था का मतलब श्री आदित्यनाथ का कानून और श्री आदित्यनाथ की व्यवस्था है।यह भी प्रतीत होता है कि उत्तर प्रदेश में पुलिस कानून का पालन नहीं कर रही है, बल्कि श्री आदित्यनाथ के कानून और श्री आदित्यनाथ की व्यवस्था के अनुसार चल रही है। PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here