भारत में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के अभी तक 23 राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों में मामले सामने आ चुके हैं। अब तक कुल 23 राज्यों में 1431 मामले सामने आए हैं, जिसमें से 488 मरीज संक्रमण से ठीक हो गए हैं। ओमिक्रॉन संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र और राजधानी दिल्ली में पाए गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों में इस बात का खुलासा हुआ है। महाराष्ट्र अभी तक पहला ऐसा राज्य है, जहां 454 ओमिक्रॉन के मामले सामने आए और उसके बाद दिल्ली में 351 मामले सामने पाए गए हैं। साथ ही महाराष्ट्र में अब तक 167 मरीज और दिल्ली में 57 मरीज ठीक हो चुके हैं।

इसके अलावा तीसरे स्थान पर तमिलनाडु है, जहां 118 मामले दर्ज किए गए हैं, तो वहीं 40 मरीज ठीक होकर अपने घर वापस जा चुके हैं। यदि हम उन राज्यों की बात करें जहां ओमिक्रॉन के सबसे कम मामले सामने आए हैं तो इनमें पंजाब ,गोवा, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और मणिपुर शामिल हैं, जहां अभी तक सिर्फ 1 ही मामला दर्ज किया गया है। महाराष्ट्र, दिल्ली और तमिलनाडु के बाद गुजरात में 115 मामले दर्ज किए गए और इनमें से 69 ठीक हो हुए हैं। वहीं केरल में 109 मामलों में सिर्फ एक मरीज ठीक हुआ है।

राजस्थान में 69 मामले दर्ज, जिसमें से 61 मरीज ठीक हुए हैं, वहीं तेलंगाना में 62 मामले सामने आए तो वहीं 18 मरीज ठीक हुए हैं। साथ ही हरियाणा में 37 मामले दर्ज किये गए हैं और 25 मरीज अभी तक ठीक हो गए हैं। इसके अलावा कर्नाटक में 34 मामले दर्ज हुए हैं, जिसमें से 18 ठीक होकर घर जा चुके हैं। आंध्र प्रदेश में 17 केस रिपोर्ट हुए, जिसमें से 3 ठीक हो चुके हैं और पश्चिम बंगाल में 17 मामले दर्ज हुए और 3 मरीज ठीक हुए हैं। इसके अलावा उड़ीसा में 14 ओमिक्रॉन के मामले दर्ज हुए हैं, जिसमें से 1 मरीज अब तक ठीक हो चुका है। वहीं मध्य प्रदेश में 9 मामले दर्ज हुए और सभी मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं।

ओमिक्रॉन के उत्तरप्रदेश में 8 मामले सामने आए हैं और 4 मरीज ठीक हुए हैं। वहीं उत्तराखंड में 4 मामले दर्ज हुए और सभी मरीज अभी तक ठीक हो चुके हैं। चंडीगढ़ में 3 केस रिपोर्ट हुए, जिसमें से 2 ठीक हो गए हैं। जम्मू और कश्मीर में 3 मामले दर्ज हुए और अभी तक सभी मरीज ठीक हो चुके हैं। साथ ही अंडमान व नीकोबार में 2 मामले ओमिक्रॉन के दर्ज किए गए हैं। PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here