Close X
Wednesday, June 16th, 2021

NSE और भारतीय डाक की वित्तीय साक्षरता की पहल

आई.एन.वी.सी,,
हरिद्वार,,
दे'ा के अग्रणी स्टॉक एक्सचेंज, ने'ानल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) ने भारत सरकार के भारतीय डाक के साथ साझेदारी कर वित्तीय साक्षरता पहल की 'ाुरूआत की है। इस साझेदारी के तहत दे'ा के विभिन्न क्षेत्रों में स्थित 50 डाकघरों में वित्तीय साक्षरता पहल का 'ाुभारंभ किया जा रहा है। उत्तराखंड में इस पहल की 'ाुरूआत 23 अगस्त को हरिद्वार स्थित प्रधान डाकघर से की गई।
दे'ा के दो अग्रणी संस्थानों, एनएसई एवं भारतीय डाक, के बीच हुई साझेदारी के अंतर्गत अपर रोड स्थित प्रधान डाकघर, जो कि 'ाहर के लैंडमार्क हर की पौड़ी के काफी करीब है, में बड़े आकार की स्क्रीन लगाई गई है। यहां का प्रधान डाकघर भीड़-भाड़ वाले बाजार में स्थित है, जहां आने-जाने वाले लोगों की संख्या काफी ज्यादा है। इस स्क्रीन पर एनएसई के प्रमुख इंडेक्स, निफ्टी 50, 'ोयरों से संबंधित अन्य जानकारियां, निवे'ा प्रक्रिया से संबंधित सलाह इत्यादि फ्लै'ा किये जायेंगे। इसके साथ ही भारतीय डाक के उत्पादों के वि"ाय में भी जानकारियां भी स्क्रीन पर प्रसारित होंगी।
हरिद्वार, निवे'ा के दृष्टिकोण से एक महत्वपूर्ण गंतव्य स्थान है और उत्तराखंड सरकार इस 'ाहर में औद्योगिक आधारभूत संरचना के विकास को प्रोत्साहित करने के लिए अथक प्रयास कर रही है। यही वजह है कि अनेक प्रमुख ऑटोमोबाइल, इंजीनियरिंग और एफएमसीजी कंपनियों ने यहां अपना संयंत्र स्थापित किया है, जिससे राज्य में आर्थिक विकास को प्रोत्साहन मिल रहा है। इसके अतिरिक्त हरिद्वार के निवासियों के लिए राजस्व का एक प्रमुख स्रोत पर्यटन भी है। एनएसई द्वारा डाकघर में वित्तीय साक्षरता अभियान की 'ाुरूआत का उÌे'य अधिक से अधिक संख्या में हरिद्वार के निवासियों के साथ-साथ लाखों श्रद्धालुओं तक पहुंच स्थापित करना है, जो विभिन्न अवसरों पर नियमित रूप से 'ाहर में आते रहते हैं।
एनएसई की संयुक्त प्रबंध निदे'ाक श्रीमती चित्रा रामकृ"णा ने कहा, ``भारतीय डाक की पहुंच व्यापक स्तर पर है, जिसके माध्यम से भारत के टियर 2 और टियर 3 'ाहरों में वित्तीय  साक्षरता का विस्तार करना हमारा उÌे'य है। हमें उम्मीद है कि इस 'ौक्षणिक अभियान ``जागृति`` के जरिये हरिद्वार के लोगों की वित्तीय समझदारी बढ़ेगी और इससे उन्हें अपने निवे'ा को बढ़ाने में मदद मिलेगी।``
हरिद्वार के डाकघर में लगाई गई इस स्क्रीन पर 'ोयर बाजार में ट्रेडिंग (कारोबार) से संबंधित टिप्स प्रदान किये जायेंगे और यह समझाने की कोि'ा'ा की जायेगी कि ट्रेडिंग करते समय क्या करना चाहिये और क्या नहीं करना चाहिये। उदाहरण के लिये हर किसी को अपना ट्रेडिंग पासवर्ड न बतायें, अपने ब्रोकर को पावर ऑफ एटर्नी देना जरूरी नहीं है, आधा-अधूरा केवाईसी फॉर्म जमा न करें, आपके नाम से किये गए सभी सौदों के लिए कांट्रैक्ट नोट बनाने के लिए दवाब डालें, और कई अन्य सलाह। इसके साथ ही स्क्रीन पर रिटेल निवे'ाकों के लिये उत्पादों के संदर्भ में जानकारियां भी प्रदिर्शत की जायेंगी, जैसे कि गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स और निफ्टी एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स, सोने में निवे'ा से संबंधित लागत प्रभावी और पारद'ाीZ विकल्प, एनएसई बेंचमार्क इंडेक्स, निफ्टी 50 के संदर्भ में जानकारियां। उल्लेखनीय है कि एनएसई में महज 500 रूपये से भी निफ्टी का एक यूनिट खरीदकर भी कारोबार 'ाुरू किया जा सकता है।
इसके साथ ही स्क्रीन पर भारतीय डाक से संबंधित जानकारियां जैसे कि ऑनलाइन मनी ट्रांसफर्स, इलेक्ट्रॉनिक मनी ऑडर्स, स्पीड पोस्ट, सेविंग्स सर्टिफिकेट्स, डाक जीवन बीमा और कॉर्पोरेट्स के लिये संचालन समाधान भी प्रसारित किये जायेंगे।
एनएसई द्वारा वित्तीय साक्षरता फैलाने की दि'ाा में उठाये गये विभिन्न कदमों की श्रृंखला के बाद भारतीय डाक के साथ यह साझेदारी की गई है। एनएसई ने दे'ा के विभिन्न क्षेत्रों में 90 से अधिक कॉलेजों के साथ गठबंधन किया है। इस साझेदारी के तहत पूंजी बाजारों पर आधारित छोटी अवधि के पाठ्यक्रम ``एनएसई सर्टिफाइड कैपिटल मार्केट प्रोफे'ानल या एनसीसीएमपी`` संचालित किये जायेंगे।
एक्सचेंज ने एमबीए और बीबीए (बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रे'ान) पाठ्यक्रमों के लिये तीन प्रमुख वि'वविद्यालयों के साथ भी गठबंधन किया है, जिसमें पटियाला स्थित पंजाबी यूनिवर्सिटी, दिल्ली स्थित गुरू गोबिन्द सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी और रोहतक स्थित महि"ाZ दयानंद यूनिवर्सिटी 'ाामिल हैं। हाल ही में एक अन्य साझेदारी में एनएसई ने आईआईएम ि'ालांग के साथ भी गठबंधन किया है, जिसके अंतर्गत आईआईएम द्वारा पहली बार वित्तीय बाजारों पर दो व"ाीZय पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रम की 'ाुरूआत की जा रही है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment