Saturday, June 6th, 2020

NRC ने असम में 100 और पश्चिम बंगाल में 31 लोगों की जान ली

नदिया । पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के बहाने केंद्र की भाजपा सरकार पर हमला बोला है। उन्‍होंने कहा शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाई गईं। असम में एनआरसी के डर की वजह से 100 लोगों की मौत हो गई, जबकि पश्चिम बंगाल में 31 लोग मारे गए। ममता ने आरोप लगाया कि भाजपा उससे असहमति रखने वाले हर व्यक्ति को आतंकित करने की कोशिश कर रही है।
राज्‍य के नदिया जिले में आयोजित एक रैली में ममता बनर्जी ने कहा असम में 100 से ज्‍यादा लोगों की एनआरसी की वजह से मौत हो गई। पश्चिम बंगाल में 31 या 32 लोगों की एनआरसी के डर से मौत हो गई। शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाई गईं। ममता बनर्जी ने कहा भाजपा उससे असहमति रखने वाले हर व्यक्ति को आतंकित करने की कोशिश कर रही है। 
उन्‍होंने कहा केंद्र सरकार नई कर व्यवस्था से लोगों को बेवकूफ बनाने की कोशिश कर रही है। ममता ने कहा कि मैं उस समूह से संबंध नहीं रखती हूं जो लोगों में घृणा फैलाता है। बता दें कि सीएए और एनआरसी को लेकर केंद्र और ममता बनर्जी के बीच जुबानी जंग चल रही है। उधर, पश्चिम बंगाल के राज्‍यपाल जगदीप धनखड़ ने भी ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है।
ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साधते हुए राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने गुरुवार को कहा कि तृणमूल कांग्रेस शासन को इसका आत्ममंथन करना चाहिए कि पश्चिम बंगाल में कानून का शासन क्यों ध्वस्त हो गया है। उधर, सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि राज्यपाल एक खास दल के कार्यकर्ता की तरह व्यवहार कर रहे हैं। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment