अब राशन दुकानों में सिर्फ खाद्यान्न नहीं मिलेगा बल्कि नागरिक सुविधा केंद्र की तरह भी काम करेंगे। राशन दुकानों को बहुउद्देशीय बनाने के लिए जल्द ही यहां कॉमन सर्विस सेंटर एवं एमपी ऑनलाइन की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। इस संबंध में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने कलेक्टरों से कहा है कि विक्रेताओं को इसका प्रशिक्षण दिया जाए और अधिक से अधिक पंजीयन की कार्यवाही की जाए। आगामी दो-तीन माह में यह व्यवस्था भौतिक रूप से प्रारंभ हो जाएगी।
सरकार की मंशा है कि आमजन को शासन की सेवाओं और सुविधाओं का लाभ नजदीक में मिल सके साथ ही उचित मूल्य दुकानों का संचालन करने वाली संस्थाओं को भी अतिरिक्त आय हो। इसके मद्देनजर खाद्य नागरिक आपूर्ति विभाग ने तय किया है कि राशन दुकानों के साथ कॉमन सर्विस सेन्टर की सेवाएं भी उपलब्ध कराई जाएं। इस संबंध में आवश्यक तैयारी करने के निर्देश प्रमुख सचिव फैज अहमद किदवई ने दिये हैं।
यह है कॉमन सर्विस सेन्टर
संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार ने कामन सर्विस सेन्टर की अवधारणा आईटी सक्षम सेवा केन्द्र के रूप में प्रारंभ की है। इसमें लोगों को कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा, मनोरंजन, बैंकिंग, वित्तीय सेवाएं आदि उपलब्ध कराई जा सकती है। राशन दुकानों में सीएससी प्रारंभ हो जाने से आयुष्मान कार्ड, फसल बीमा, पीएम उज्जवला योजना, मानधन योजना, किसान सम्मान निधि, किसान क्रेडिट कार्ड योजना आदि योजनाओं का लाभ दिया जा सकेगा। साथ ही यहां पैन कार्ड के आवेदन, पासपोर्ट आवेदन, डीजी पे, जीवन प्रमाण पत्र आदि सेवाएं भी मिल सकेंगी।
एमपी ऑनलाइन कियोस्क की सेवाएं भी
मध्यप्रदेश सरकार के विभिन्न सरकारी विभागों की सेवाओं को आनलाइन पहुंचाने का काम एमपी आनलाइन कियोस्क के माध्यम से होता है। साथ ही यहां से बिजली बिल सहित अन्य बिल जमा होते है। इसके अलावा स्कूल कॉलेज के एडमिशन सहित अन्य प्रक्रियाएं, सरकारी विभागों की भर्ती के आवेदन, आन लाइन परीक्षा प्रक्रिया जैसी सेवाएं उपलब्ध रहेंगी। PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here