खूनी नीलम : जाने खूनी नीलम के बारे सभी कुछ , आपने राशि रत्नो के बारे बाहर सुना होगा ,देखे भी होंगे ,पहने भी होंगे साथ ही आपने खुनी नीलम के बारे सूना भी होगा और खूनी नीलम के बारे में सभी कुछ जानने को आतुर भी होंगे।

आइये हम खूनी नीलम के बारे में बताते हैं सभी कुछ। रत्नों में से एक है नीलम रत्न यह शनि का रत्न है और इसे बहुत ही शक्तिशाली रत्न माना जाता है। इसके विषय में कहा जाता है कि यह रंक को भी राजा बना सकता है लेकिन खूनी नीलम आम नीलम से हज़ारो गुना पवार फुल होता हैं खूनी नीलम के रिजल्ट अच्छे या बुरे सबसे आते हैं।

आइये हम बताते हैं की खूनी नीलम किन विशेष परिस्थितियों में पहनाया जाता हैं। किसी व्यक्ति की कुंडली वृश्चिक लग्न की हो और चंद्रमा मकर राशि में हो और मंगल छठे आठवें या बारहवें स्थान में हो तो ही ऐसे में खूनी नीलम धारण करने की सलाह दी जाती है. और अगर चन्द्रमा मेष राशि में हो और जातक का मकर लग्न हो शनि में मंगल की महादशा चल रही हो तब भी खूनी नीलम पहनने की सलाह दी।

खूनी नीलम को पहनने से पहले किसी भी ज्ञानी ज्योतिषचार्या को अपनी कुंडली एक बार नहीं काम से काम एक लाख बार दिखाए साथ एक से अधिक ज्ञानी ज्योतिषचार्या को अपनी कुंडली अवश्य दिखाए।


कृपया ध्यान दे : यह जानकारी मात्र हैं खूनी नीलम को पहनने से पहले किसी भी ज्ञानी ज्योतिषाचार्य / एक्सपर्ट की राय अवश्य ले।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here