आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री यागी आदित्यनाथ जी न आज जनपद महराजगंज में इण्डिया टी0वी0 फाउण्डेशन द्वारा आयोजित दो-दिवसीय (18 व 19 अगस्त, 2019) निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर उन्होंन 10 रोगियां का सेनेटाइज़ किट वितरित की। शिविर में मरीजां का निःशुल्क परीक्षण किया गया और दवाइयां भी वितरित की गयीं।

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बाधित करत हुए मुख्यमंत्री जी न इण्डिया टी0वी0 फाउण्डेशन का जनजागरण अभियान का हिस्सा बनन के लिए धन्यवाद दिया तथा अगला कार्यक्रम जनपद कुशीनगर में आयोजित करने का आह्वान किया। उन्होंन कहा कि पिछले 40-42 वर्षां में जेई/एईएस से बड़ी संख्या मं बच्चां की मृत्यु हुई है। सांसद के रूप में उनके द्वारा इस मामले को कई बार संसद मं उठाया गया है। वर्तमान राज्य सरकार के कार्यकाल में जे0ई0/ए0ई0एस0 बीमारी की राकथाम मं उल्लेखनीय सफलता हासिल हुई है। 

मुख्यमंत्री जी न कहा कि जे0ई0/ए0ई0एस0 बीमारी का समूल समाप्त करन के लिए कार्ययाजना बनाकर कार्य किया गया है। इस बीमारी पर नियंत्रण के लिए इससे बचाव के सम्बन्ध मं जन-जागरूकता आवश्यक है। इसके लिए अन्तर्विभागीय अधिकारियां की टीम बनाकर व विभिन्न विभागां के अधिकारियों को नोडल अधिकारी नामित करत हुए बीमारी से बचाव हतु जागरूकता अभियान संचालित किया गया है। स्वच्छता कार्यक्रम के अतिरिक्त माह जुलाई, 2019 में सभी जनपदों में ‘संचारी राग नियंत्रण अभियान’ जे0ई0/ए0ई0एस0 से सर्वाधिक प्रभावित जनपदों में 01 से 15 जुलाई, 2019 तक ‘दस्तक अभियान’ संचालित किया गया है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि बेस लाइन सर्वे के आधार पर प्रत्यक ग्राम में शौचालय निर्माण कराया गया है। ग्राम स्तर पर शौचालय के उपयोग के प्रति जागरूकता उत्पन्न करन के लिए अभियान चलाया गया है। परिणामस्वरूप इस बीमारी पर व्यापक नियंत्रण हुआ है और मृत्यु दर काफी कम हुई है। उन्हांने अधिकारियां को निर्दशित किया कि बस लाइन सर्वे के अतिरिक्त पात्र व्यक्तियों को चिन्हित कर निर्धारित समय सीमा के भीतर शौचालय उपलब्ध करान की कार्यवाही करं।

इस अवसर जनप्रतिनिधिगण एवं शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।



 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here