कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में जारी पहले डिजिटल पोस्टर में जवाहरलाल नेहरू की तस्वीर नहीं लगाने पर भारतीय ऐतिहासिक अनुसंधान परिषद (आईसीएचआर) की निंदा की है। चिदंबरम ने कहा कि इस पर दी गई सफाई हास्यास्पद है। उन्होंने आईसीएचआर के सदस्य सचिव पर घृणा एवं पूर्वाग्रह के आगे झुकने का आरोप लगाया और उनसे सवाल किया कि क्या वह मोटर कार के जन्म का जश्न मनाते हुए हेनरी फोर्ड को नजरअंदाज कर सकते हैं या विमानन की शुरुआत का जश्न मनाते हुए राइट बंधुओं को भूल जाएंगे?
मोटर कार का आविष्कार सबसे पहले फोर्ड ने किया था और राइट बंधुओं को दुनिया के पहले विमान के निर्माण और उड़ान का श्रेय दिया गया था। उन्होंने ट्वीट किया, 75वें स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए पहले डिजिटल पोस्टर में जवाहरलाल नेहरू की तस्वीर न लगाने का आईसीएचआर सदस्य सचिव का स्पष्टीकरण हास्यास्पद है। उन्होंने यह भी कहा, घृणा एवं पूर्वाग्रह के आगे झुकने के बाद, बेहतर यह रहेगा कि सदस्य सचिव अपना मुंह बंद रखें। चिदंबरम ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर कहा, अगर वह मोटर कार के आविष्कार का जश्न मना रहे होते, तो क्या वह हेनरी फोर्ड को हटा देते? अगर वह विमानन के जन्म का जश्न मना रहे होते, तो क्या वह राइट बंधुओं को छोड़ देते? अगर वह भारतीय विज्ञान का उत्सव मना रहे होते तो क्या वह सीवी रमन को हटा देते?
आईसीएचआर द्वारा ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ समारोह के पोस्टर में नेहरू की तस्वीर नहीं लगाने पर विवाद शुरू हो गया है। विपक्षी दलों ने इसके लिए सरकार की आलोचना की है और इसे तुच्छ एवं भद्दा करार दिया है। PLC.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here