Close X
Monday, July 26th, 2021

अपनी कुशलता के कारण सोने की चिड़िया कहलाता था भारत 

प्राचीन काल में भारतवर्ष स्किल्ड होने की वजह से सोने की चिड़िया कहलाता था : पीएम भारद्वाज


आई एन वी सी न्यूज़
जयपुर ,

 राजस्थान व गुजरात के 164 क्लबों वाली रोटरी ईन्टरनेशनल की विश्व में सबसे बडी डिस्ट्रिक्ट 3054 के चेयरमैन  व  मोटिवेशनल गुरु रोटेरियन पी एम भारद्वाज ने रोटरी इंटरनेशनल द्वारा आयोजित नई शिक्षा प्रणाली 2020 व स्किल डवलपमेंट व आत्म निर्भर भारत विषय पर कहां कि भारत प्राचीन काल से ही विश्व गुरु था क्योंकि भारत आत्मनिर्भर था।

डिस्ट्रिक्ट कांफ्रेंस के मुख्य अतिथि  प्रांतपाल रोटेरियन राजेश अग्रवाल ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत एवं दिस स्किल डेवलपमेंट जैसे गंभीर विषय पर देश और दुनिया के अनुभवी , विख्यात विद्वानों द्वारा मंथन करवाना रोटरी क्लब जयपुर बापू नगर रोटरी डिस्ट्रिक्ट के लिए बड़ी ज़िम्मेदारी है।

रोटरी द्वारा आयोजित इस कॉन्फ्रेंस में दुनिया के विश्व प्रसिद्ध प्रोफेसर एवं आई टी साइंटिस्ट यूनाइटेड नेशंस की आई एल ओ से जुड़े प्रोफ़ेसर डीपी शर्मा को रोटरी इंटरनेशनल के 3854 डिस्ट्रिक्ट गर्वनर व अध्यक्ष ने मानद् सदस्यता अवार्ड की। अध्यक्ष अग्रवाल ने कहा कि डॉ शर्मा जैसे विश्व विख्यात व्यक्ति एवं भारत के प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत एंबेसडर को हमें इस क्लब की मानद सदस्यता अवार्ड करते हुए गौरव का अनुभव हो रहा है। डॉ शर्मा ने अपने उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि वे आज दुनिया के सबसे बड़े क्लब इंटरनेशनल रोटरी 3054 से जुड़कर गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं और यह विश्वास दिलाते हैं कि रोटरी द्वारा सेवा के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय स्तर पर जो भी सेवाएं उनकी क्षमताओं में अपेक्षित होंगी वह अवश्य प्रदान करेंगे। डॉ शर्मा ने आगे कहा कि  सन 1700 में भारत की दुनिया की जीडीपी में योगदान 24.5 प्रतिशत था जो कि 1950 में घटकर 4.4 प्रतिशत रह गया। उन्होंने आगे कहा कि भारत आत्मनिर्भर पहले भी था क्योंकि कोलंबस हो या वास्कोडिगामा सभी भारत की खोज में निकले थे भारत किसी की खोज में नहीं निकला था। हमें गर्व महसूस करते हुए देश को आगे बढ़ाने की आवश्यकता है। उन्होंने देश के प्रोफेसर को पॉलिटिकल प्रोफेसर होने के माइंडसेट से बाहर निकल कर रिसर्च प्रोफेसर, इंडस्ट्री प्रोफेसर, पॉलिसी प्रोफेसर बनने की सलाह दी।

भारत सरकार के चार पी एस यू के एम डी, सी एम डी रहे भारद्वाज देश व सामाजिक हित के ज्वलंत विषयों पर रोटरी प्लेटफ़ार्म के माध्यम से बहुत बडा कार्य कर रहे है । उन्होंने कहा कि भारद्वाज फाउंडेशन भी स्किल डेवलपमेंट और आत्मनिर्भर भारत के लिए सीरीज ऑफ वेबीनार चला रही।  पीएम भारद्वाज ने विद्यालयों में दैनिक जीवन और उद्योगों में उपयोगी और विकासोन्मुख कौशलपूर्ण शिक्षा की आवश्यकता पर बल दिया।

उघोगपति श्री अग्रवाल ने देश के स्किल व आत्म निर्भर भारत पर होने वाले कार्यों में सहयोग करने का विश्वास दिलाया।

प्रमुख वक्ताओं में रोटरी के पूर्व अध्यक्ष व मारवाड़ी यूनिवर्सिटी के कुलपति डा० संदीप संचेती ने नई शिक्षा नीति और उसमें वोकेशनल शिक्षा के समावेश पर प्रकाश डाला । क्लब व इन्सटीटूशन आफ इंजीनियर्स के पूर्व अध्यक्ष रोटेरियन पी सी संघी ने बताया कि रोटरी इंडिया स्किल डवलप के अंतर्गत लूम्बा फ़ाउंडेशन के साथ देश में रोटरी क्लबों के माध्यम से बड़े प्रोजेक्ट पर काम कर रही है | पीसी सांगी ने स्किल डेवलपमेंट के लिए किए जा रहे कार्य डिस्ट्रिक्ट चेयरमैन एवं क्लबों द्वारा की भूरी भूरी प्रशंसा की | क्लब पेर्टन व संस्थापक अध्यक्ष रोटेरियन डा०सुधीर कल्ला नें कहा कि आत्म निर्भर भारत बनने के लिये हमें आयात को सीमित करना होगा ताकि हमारी लोकल इन्डस्टीज् कम्पीट कर पाऐं । सिम्बोयसिस स्किल यूनिवर्सिटी पूना के कुलपति प्रोफ़ेसर अश्वनी शर्मा ने  डिस्ट्रिक्ट चेयरमैन रोटेरियन पीएम भारद्वाज की प्रशंसा करते हुए कहा कि देश के तीन ज्वलंत व महत्वपूर्ण विषयों की चर्चा द्वारा ज्ञान का अद्भुत संगम कॉन्फ्रेंस में किया जा रहा है | जे के यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो० रैना ने भी शिक्षा में कोशल की आवश्यकता पर बल दिया ।

मणिपाल यूनिवर्सिटी के कुलपति डा० प्रभु में शिक्षा नीति की 6 विशेषताएँ लोकेशनल शिक्षा पर बल , शिक्षा में भेदभाव को समाप्त करना , स्कूलों को आटीआई व अन्य स्किल विकास से जोड़ने  पर प्रकाश डाला । डाटा एक्जन व वीडीयो मीट के सीईओ डा० अजय डाटा ने ई - एजूकेशन जो समय की माँग व आवश्यकता है उस पर गंभीरतपूर्वक जल्द ही अमल करने व वर्तमान व्यक्तिगत परीक्षा की व्यवस्था को आन लाईन परीक्षा में बदलनें पर ज़ोर दिया और इसके लिये अपनी प्रोफेशनल सेवाएँ देनें व अपनी  स्वदेशी तकनीकी से विकसित आन लाईन वीडीयो कांफ्रेन्स के लिये रोटरी को सेवा देने हेतु अपनी भावना प्रगट की ।

कार्यक्रम के दौरान श्री एस एन विजयवर्गिय व श्री संजीव खनिजों को भी क्लब की सामान्य सदस्यता दिलाई गई । रोटरी क्लब जयपुर बापूनगर के प्रेसीडेन्ट रोटेरियन रवि शंकर शर्मा ने भारी संख्या में उपस्थित राजस्थान व गुज़रात के रोटेरियंस, गवर्नर राजेश अग्रवाल, पी एम भारद्वाज का स्वागत व अभिनंदन करते हऐ क्लब की गतिविधियों की जानकारी दी। कार्यक्रम के अंत में सचिव रोटेरियन अशोक गोयल ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया ।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment