कोरोना की देश में लगातार छुट्टी हो रही है। बीते एक दिन में महज 14,313 नए केस ही मिले हैं। यह आंकड़ा बीते 224 दिनों में सबसे कम है। इससे पता चलता है कि कोरोना से मिली यह राहत कितनी बड़ी है। इसके साथ ही कोरोना से रिकवरी रेट भी 98.04 फीसदी हो गया है, जो मार्च 2020 से अब तक का सबसे ऊंचा स्तर है। यही नहीं एक्टिव केसों की संख्या में भी बड़ी कमी देखने को मिल रही है। एक तरफ नए केस महज 14 हजार के पार हैं तो 26,579 लोग इसी दौरान रिकवर हुए हैं। इसके चलते एक्टिव केसों की संख्या तेजी से कम होते हुए महज 2,14,900 ही रह गई है।

एक्टिव केसों का यह आंकड़ा पिछले 212 दिनों में सबसे कम है। अब तक देश में 3 करोड़ 33 लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण को मात दे चुके हैं। यही नहीं कोरोना केसों में कमी के चलते वीकली पॉजिटिविटी रेट भी लगातार कम हो रहा है। फिलहाल यह रेट महज 1.48 फीसदी ही है। बीते 109 दिनों से यह आंकड़ा 3 फीसदी से कम बना हुआ है। अब यदि डेली पॉजिटिविटी रेट की बात करें तो यह 1.21 फीसदी ही है, जो बीते 43 दिनों से 3 फीसदी से कम पर बनी हुई है। केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु जैसे राज्यों में भी कोरोना के केसों में कमी के चलते यह स्थिति देखने को मिल रही है।

कोरोना वायरस संक्रमण के केसों में इस कमी की एक वजह वैक्सीनेशन को भी माना जा रहा है। देश में अब तक 95.89 कोरोना टीके लग चुके हैं। सरकार ने ऐलान किया है कि इस साल के अंत तक देश के सभी वयस्कों को कोरोना टीका लगाया जाएगा। ऐसे में इस बात की उम्मीद की जा सकती है कि इस साल के आखिर तक कोरोना की गति काफी हद तक कम हो जाएगी। यही नहीं कोरोना केसों में कमी के चलते फेस्टिव सीजन से पहले इकॉनमी को भी राहत मिली है। जीडीपी के आंकड़े भी इस बात की गवाही देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here