दिल्ली में शनिवार को हुई भारी बरसात  ने 121 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया. मूसलाधार बारिश की वजह से दिल्ली की सड़कें तालाब में बदल गई. तमाम घर और दुकानें पानी में डूब गए और लोगों को ट्रैफिक जाम का भी सामना करना पड़ा.
भारतीय मौसम विभाग के वैज्ञानिक   के मुताबिक दिल्ली में पिछले 24 घंटों में हुई बारिश  ने 121 साल के पुराने रिकॉर्ड को तोड़ दिया. इसके साथ ही सितंबर में अब तक हुई बारिश ने 77 साल पुराना रिकॉर्ड ध्वस्त किया. सितंबर 1944 को दिल्ली में 417 मिलीमीटर बारिश हुई थी. जबकि इस साल सितंबर महीने में 11 तारीख तक 390 मिलीमीटर बारिश  हो चुकी है. पिछले 4 महीने में दिल्ली में 1139 मिलीमीटर बारिश  हुई है. इतनी अच्छी बारिश वर्ष 1975 के बाद पहली बार हुई है.

दिल्ली में शनिवार को हुई तेज बरसात   में एयरपोर्ट से यात्रियों को लेकर आ रही एक बस पालम फ्लाईओवर के नीचे अंडरपास में पानी में फंस गई. इससे बस में मौजूद करीब 40 यात्रियों में डर का माहौल बन गया.मामले की सूचना मिलने पर फायर बिग्रेड की टीम मौके पर भेजी गई. जिन्होंने सभी  सभी यात्रियों को सुरक्षित निकाला गया. इस घटना में यात्रियों का सामान पानी में भीगने से खराब हो गया.मौसम वैज्ञानिक  के मुताबिक दिल्ली-एनसीआर में अब भी बादल बने हुए हैं. रविवार सुबह तक दिल्ली-एनसीआर, यूपी, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में भारी बारिश (Rain) बनी रहेगी. उसके बाद मौसम कुछ दिनों तक ठीक हो जाएगा.

उन्होंने बताया कि बंगाल की खाड़ी में फिर से मानसून  एक्टिव हो रहा है. वह 17-18 सितंबर तक दिल्ली-एनसीआर में पहुंच सकता है. उसके असर से ओडिशा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, यूपी, राजस्थान, हरियाणा, दिल्ली, पंजाब, गुजरात और महाराष्ट्र में 4-5 दिनों तक बारिश होगी. PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here