26 अक्टूबर से शुरू हो रहे नवरात्रि में गरबा की धूम रहेगी

नवरात्र उत्सव के अवसर पर राजधानी में पूरे दो वर्ष बाद नवरात्र में गरबा व डांडिया की धूम रहेगी। जानलेवा कोरोना वायरस के कारण दो सालों से गरबा व डांडिया के आयोजन नहीं हुए थे। कोरोना वायरस से राहत मिलने के बाद नवरात्र में शहर के अलग-अलग इलाकों में 500 से अधिक मातारानी की झांकियां सज रही हैं।

नवरात्र को देखते हुए सामाजिक व धार्मिक संगठनों ने गरबा व डांडिया महोत्सव कराने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। 26 सितंबर से चार अक्टूबर तक शहर भर में पांच दर्जन से अधिक स्थानों पर सार्वजनिक गरबा व डांडिया महोत्सव होंगे। राजधानी में गुजराती समाज के अध्यक्ष संजय पटेल ने बताया कि कोरोना के कारण दो सालों से गरबा व डांडिया के आयोजन नहीं हुए थे।

इस बार 26 सितंबर से चार अक्टूबर तक गरबा महोत्सव रखा गया है। डांडिया भी होगा। नौ दिनों तक गुजराती भवन में गरबा की धूम रहेगी। गुजराती समाज के लोग गरबा व डांडिया करने का आनंद उठा सकेंगे। राजपूत समाज के महासचिव दीपक चौहान ने बताया कि समाज की महिला शाखा जल्द ही नवरात्र पर गरबा व डांडिया महोत्सव का आयोजन कराने के लिए बैठक करने वाली है। दो साल से कोरोना के कारण गरबा व डांडिया के आयोजन नहीं हुए।

अब नए सिर से इस साल चार इमली महाराणा प्रताप भवन में गरबा व डांडिया महोत्सव कराने की रूपरेखा बनेगी। जवाहर चौक स्मार्ट सिटी रोड पर नवयुवा दुर्गा उत्सव समिति की ओर से 27 सितंबर से बच्चों के लिए गरबा व डांडिया उत्सव रखा गया है। चार अक्टूबर तक गरबा बच्चे कर सकेंगे। समिति के उपाध्यक्ष नीलेश श्रीवास्तव ने बताया कि माताजी की झांकी साजने का काम चल रहा है।

मां वैष्णों देवी उत्सव समिति द्वारा कोलार सर्वधर्म बी सेक्टर मां कल्पना चावला पार्क में माताजी को विराजित किया जा रहा है। समिति के प्रमुख राहुल सिंह राठौड़ ने बताया कि 26 से शुरू हो रहे नवरात्र में गरबा की धूम रहेगी। झांकि प्रांगण में गरबा व डांडिया की आयोजन कराया जाएगा। PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here