यूपी की तर्ज पर अब बिहार में भी एक्सप्रेस-वे  बनेगा. बिहार का पहला एक्सप्रेस-वे पटना से कोलकाता के बीच बनाया जाएगा. इस बात की जानकारी पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन थी. पथ निर्माण मंत्री की मानें तो भारत माला  फेज-टू में बिहार की जिन सड़कों को शामिल किया गया है उसमें एक्सप्रेस-वे भी है. पथ निर्माण मंत्री की मानें तो यह यूपी के पूर्वांचल एक्सप्रेस की तर्ज पर ही इसका भी निर्माण होगा.

पथ निर्माण मंत्री ने नितिन नवीन ने कहा कि पटना में बन रहा रिंग रोड का काम भारतमाला फेज-वन के तहत ही चल रहा है. काम पूरा होने पर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे जैसी सड़कें पटना में भी देखने को मिलने लगेंगी. बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए की सरकार में 15 सालों के कार्यकाल में सड़कों के कायाकल्प का दावा करते हुए पथ निर्मानमंत्री ने कहा कि राज्य के हर गांव से 40 किलोमीटर की दूरी पर फोरलेन सड़क हो इस पर काम फिलहाल चल रहा है.

गौरतलब है कि भारत माला-2 के तहत पटना-कोलकाता एक्सप्रेस-वे के अंतर्गत सड़कें बिहारशरीफ के बाद पूरी तरह से नई होगी. पटना से कोलकाता एक्सप्रेस-वे बिहार की पहली सड़क होगी जो ऐक्सेस रिस्ट्रिक्टेड होगी, यानी इसमें बीच में कोई वाहन रोड पर नहीं दिखेग. यह रोड पटना-बख्तियारपुर फोरलेन होते हुए बख्तियारपुर-रजौली से निकलेगी . बिहारशरीफ के नालंदा से इस एक्सप्रेस-वे का एलाइनमेंट अलग हो जाएगा. जिस रास्ते से यह रोड आगे बढ़ेगा उस पर फिलहाल अभी कोई सड़क नहीं है. इसमें सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि शेखपुरा, सिकंदरा, चकाई, मधुपुर, दुर्गापुर और पानागढ़ होते हुए यह रोड ढालकुनी से आगे बढ़ेगी.PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here