Close X
Wednesday, October 28th, 2020

CM Yogi  ने मिशन रोजगार को लेकर की बड़ी बैठक

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवाओं को रोजगार देने की दिशा में बड़ा कदम बढ़ाया है. सीएम योगी ने प्रदेश के इंजीनियरिंग और व्यावसायिक शिक्षा के छात्रों को बड़ा तोहफा दिया है. दरअसल योगी सरकार यूपी में इंजीनियरिंग और व्यवसायिक शिक्षा के 20 लाख छात्रों का पूरा ब्यौरा तैयार करने जा रही है. आज 12 बजे सीएम योगी ने यू राइज सॉफ्टवेयर को लेकर अहम बैठक बुलाई है.

बता दें योजना है कि यू राइज़ सॉफ्टवेयर पर प्रत्येक छात्र के प्रवेश से लेकर रोज़गार पाने तक का पूरा ब्यौरा होगा. इसके अलावा नई शिक्षा नीति 2020 को लागू करने वाला यूपी पहला राज्य बन गया है. आज योगी सरकार प्रदेश के सरकारी तकनीकी व व्यवसायिक शिक्षण संस्थानों के कायाकल्प के लिए 200 करोड़ रुपए भी देने जा रही है. बता दें सरकार पंडित दीनदयाल उपाध्याय प्रोत्साहन योजना के तहत सरकारी संस्थानों को 200 करोड़ रुपए पहले भी दे चुकी है.

इ-कंटेंट और इ-लाइब्रेरी भी

इस यू राइज यूनिफाइड सॉफ्टवेयर में छात्र की पूरी डिटेल उपलब्ध रहेगी. छात्रों के प्रवेश से लेकर सत्र फीस से रोजगार मिलने तक का पूरा ब्यौरा इसमें रहेगा. पहले चरण में इसमें 20 लाख छात्र जुड़ेंगे. इस यू राइज़ साफ्टवेयर पर छात्रों के ब्योरे के साथ ही साथ इ-कंटेंट और इ-लाइब्रेरी उपलब्ध होगी. कोई भी छात्र, शिक्षक या संस्थान अध्ययन के लिए कहीं भी इ-कंटेंट और इ-लाइब्रेरी का उपयोग कर सकेगा. मेधावी और आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को इससे बड़ी सहायता मिलने की उम्मीद जताई जा रही है.


कंपनियों को हायरिंग में मिलेगी मदद

सरकार का मानना है कि इसमें करीब 20 लाख छात्रों का डेटा होगा, जो रोज़गार के लिहाज़ से बेहद महत्वपूर्ण होगा. इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से कंपनियां अपने यहां आसानी से हायरिंग कर सकेंगीं. बता दें दीनदयाल उपाध्याय प्रोत्साहन कार्यक्रम 2017 में प्रारंभ हुआ था. एकेटीयू के सभी इंजीनियरिंग कॉलेज इससे सम्बद्ध हैं. PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment