Close X
Saturday, September 26th, 2020

हिन्दू महासभा का शताब्दी समारोह - छाय रहे हिन्दू हित के मुद्दे

Akhil Bharat Hindu Mahasabha Shatabdi Samaroh - Chandra Prakash Kaushik, National Presidentआई एन वी सी न्यूज़ नई दिल्ली , आरएसएस की जननी अखिल भारत हिन्दू महासभा के गठन के अब सौ वर्ष पूरे हो गये हैं ! अखिल भारत हिन्दू महासभा का शताब्दी समारोह में हिन्दू हित के सभी मुद्दे  पूरी तरहा  हावी रहे हैं ! इस पूरे समारोह दौरान अखिल भारत हिन्दू महासभा के पूरे देश आयें सभी बड़े पदाधारियों के साथ साथ अखिल भारत हिन्दू महासभा  से  भाजपा में भेजे गयें पुराने आरएसएस  प्रचारको के साथ साथ कई बड़े भाजपा  नेताओं के साथ की मंत्रीओ में  भी शिरकत की ! अगर सूत्रों की माने तो अखिल भारत हिन्दू महासभा भाजपा की हिन्दू हित की अनदेखी से आहात हैं और भविष्य में हिन्दू हित के लियें एक बड़े आन्दोलन के साथ साथ चुनावी मैदान में उतने की रणनीति बनाने में जुटी हैं साथ सभी पुराने अखिल भारत हिन्दू महासभा से भाजपा और आरएसएस में गएँ हाशिय पर पड़े हिन्दूवादी नेताओं के साठ-गाँठ के साथ साथ हिन्दू हित की रणनीति में लगे हुए हैं !  अखिल भारत हिन्दू महासभा का शताब्दी समारोह के दौरान साध्वी प्रज्ञा को आज़ाद कराने के लियें प्रज्ञा संघर्ष समीति का गठन भी किया गया !

अखिल भारत हिन्दू महासभा के केंद्रीय कार्यालय हिन्दू महासभा भवन के विशाल प्रांगण में हिन्दू महासभा के स्वर्णिम १०० वर्ष पूरा होने पर भव्यतम समारोह  का आयोजन किया गया. राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश कौशिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी के अथक प्रयासों से आयोजित इस कार्यक्रम में पूरे देश से हिन्दू महासभा के कार्यकर्ताओं ने भाग लिया. कार्यक्रम के मुख्य वक्ता के रूप में भाजपा के सांसद साक्षी महाराज ने देश के हिन्दुओं से एकजुट होने की अपील करते हुए कहा कि देश में सभी नागरिकों के लिए एक समान कानून लागू होने चाहिए. ऐसा न हो कि देश में हिन्दू दो बच्चे पैदा करें और मुसलमान चालीस बच्चे पैदा करें !

वहीं कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि साध्वी प्राची ने केंद्र की मोदी सरकार को भारतीय सैनिक हेमराज का सर, पाकिस्तान से वापस लाने की चुनौती देते हुए कहा कि देश में हिन्दू युवतियां ऐश्वर्या राय बनने की बजाय महारानी लक्ष्मी बाई बनने का स्वप्न देखें. साध्वी प्राची ने देश के युवाओं को शाहरुख़ और सलमान से दूर रहकर वीर सावरकर के रास्ते पर चलने की नसीहत दी !

कार्यक्रम में देशभक्ति के गीतों पर शानदार प्रस्तुति देते हुए बेबी पब्लिक स्कूल, नोयडा के बच्चों ने दिल जीत लिया. रंगारंग कार्यक्रम की श्रृंखला को आगे बढ़ाते हुए प्रोफेशनल कलाकारों द्वारा राधे-कृष्ण और कृष्ण-सुदामा की मित्रता के ऊपर शानदार प्रस्तुति दी गयी. कार्यक्रम में राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कौशिक के कार्यकाल की उपलब्धियों का व्यापक वर्णन किया, जिसमें हिन्दू महासभा के प्रयासों से महामना मदन मोहन मालवीय को भारत रत्न मिलना भी शामिल रहा है !

राष्ट्रीय महामंत्री ने शताब्दी समारोह में आये हुए अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि हिन्दू महासभा ही एकमात्र ऐसा संगठन है जो बिना डरे हिन्दुओं की न सिर्फ आवाज उठता है, बल्कि सत्ता की राजनीति करने के बजाय हिन्दू हितों की राजनीति करने को प्राथमिकता देता है. कार्यक्रम में दिल्ली प्रदेशाध्यक्ष सुनील त्यागी, मध्य प्रदेश हिन्दू महासभा से मोहनलाल,  गुजरात प्रदेश से महेंद्र परमार जी और राघव मिश्रा, अशोक शर्मा, रमेश, श्याम सोनकर, प्रभुनाथ राय, विजय मिश्रा, धर्मपाल सिवाच, राकेश रंजन, बसंत राव पाटिल, मुकुल मिश्रा, सत्य नारायण मिश्रा, राजशेखर, स्वामी प्राणवान इत्यादि हिन्दू महासभाई शामिल रहे, जिन्होंने अपने वैचारिक दृष्टिकोण से हर एक को प्रभावित किया. हिन्दू महासभा द्वारा दोपहर में भोजन प्रसाद की व्यवस्था का सभी हिन्दू महासभाइयों ने साथ में आनंद लिया. कार्यक्रम के अंत में राधे-कृष्ण के नृत्य पर सभी श्रोता झूम उठे. अंत में भारत माता की जय के नारे के साथ कार्यक्रम के समापन की घोषणा की गयी !

अखिल भारत हिन्दू महासभा का शताब्दी समारोह के बाद अखिल भारत हिन्दू महासभा की राष्ट्रीय कार्यकारणी  की बैठक हुई जिसकी अध्यक्षता अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश कौशिक की!

Comments

CAPTCHA code

Users Comment