Saturday, December 7th, 2019

CBI नें  जीएसटी सुप्रीटेडेंट घूस लेते रंगे हाथों पकड़ा


आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ ,
सीबीआई कोर्ट नें  कल शाम को पच्चीस हज़ार घूस लेते रंगे हाथों पकड़े गए लखनऊ जीएसटी सुप्रीटेडेंट राजेश श्रीवास्तव को चौदह दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया | राष्ट्रीय राष्ट्रवादी पार्टी अध्यक्ष प्रताप चंद्रा नें सीबीआई को कल 23 अक्टूबर को लिखित शिकायत दर्ज कराया कि जीएसटी सुप्रीटेडेंट राजेश श्रीवास्तव मेरी फर्म की आडिट करने के लिए पच्चीस हज़ार रुपये मांग रहे हैं जो न सिर्फ अनुचित, गैरकानूनी है बल्कि घूसखोरी को बढ़ावा देने जैसा है जो कि हम नहीं करना चाहते हैं इसलिए तत्काल उचित कानूनी कार्यवाही की जाये |

मामले की गंभीरता और श्री प्रताप चंद्रा के शिकायत पर सीबीआई अधिकारी तत्काल सक्रीय होकर अपना जाल बिछाया, जिसके तहत केमिकल युक्त रुपये के साथ तैयारी करके शाम लगभग ६ बजे सीबीआई टीम लखनऊ अलीगंज स्थित जीएसटी कार्यालय के आस पास ताक में लग गई, जीएसटी सुप्रीटेडेंट राजेश श्रीवास्तव नें शाम साढ़े छह बजे घूस की रकम लेने के लिए श्री प्रताप चंद्रा को फोन करके बोला निचे ही मिल रहा हूँ, निचे आफिस के बगल गली में बुलाया और रूपया लेकर गिनने लगा तभी ताक में लगी सीबीआई टीम नें केमिकल लगा रूपया सहित रंगे हाथों धर दबोचा |

आज सीबीआई कोर्ट में जीएसटी सुप्रीटेडेंट राजेश श्रीवास्तव को पेश किया गया जिसके बाद कोर्ट नें चौदह दिन के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया |

राष्ट्रीय राष्ट्रवादी पार्टी अध्यक्ष प्रताप चंद्रा नें बताया कि देश को भ्रष्टाचार दीमक की तरह खा रहा है, ऐसे में जरुरत है ऐसे भ्रष्ट अधिकारीयों को जेल भिजवाने की जिससे भ्रष्टाचारियों पे लगाम लग सके, उन्होंने अपील किया कि सभी लोग घूस मांगने वालों के खिलाफ निःसंकोच शिकायत करके उन्हें जेल भिजवायें, सीबीआई द्वारा त्वरित ऐक्शन लेकर सफल कार्यवाही पर पूरे सीबीआई टीम का आभार करते हुए कहा कि सीबीआई नें लगातार सत्रह घंटे इस काम में लगी रही जो निसंदेह प्रशंसनीय है |

 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment