ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने चिंता जाहिर की है कि भारत  की राजनीति ‘इजरायल की तरह न हो जाए। दरअसल हैदराबाद सांसद ने दिल्ली-मेरठ यात्रा के दौरान काफिले पर हुए हमले के बाद बयान दिया है।उन्होंने मामले को लेकर मोदी सरकार पर भी सवाल उठाए।एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा, इनके (शूटर्स) के पीछे कई लोग हैं।हाल ही में प्रयागराज में एक तथाकथित ‘धर्म संसद’ हुई थी, जहां लोग खड़े हुए और मुझे मारने की बातें हुईं।मोदी सरकार इनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है? मुझे डर है कि बहुसंख्यकों के नियंत्रण वाली भारतीय राजनीति इजरायल की तरह न हो जाए।’
ओवैसी ने केंद्र सरकार से मांग की है, कि उन्हें सुरक्षा के लिए साथ में ग्लॉक हथियार रखने की अनुमति दे। उन्होंने कहा, मैं केंद्रीय गृह मंत्रालय और केंद्र सरकार से दिल्ली में अपनी सुरक्षा के लिए सरकारी खर्चें पर नहीं, बल्कि अपने गन लाइसेंस पर ग्लॉक हथियार की अनुमति मांगूगा। मैं बुलेटफ्रूफ कार के लिए भी इजाजत मांगूगा। केंद्र सरकार ने एआईएमआईएम की सुरक्षा समीक्षा कर उन्हें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की जेड सिक्युरिटी देने का फैसला किया है। हालांकि, ओवैसी ने सरकार की तरफ से मिली सुरक्षा लेने से इनकार कर दिया है। PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here