महर्षि अरविंद इंस्टिट्यूट के छात्र अभिजीत कुमावत को नासा से इनफॉरमेशन वल्नेरेबिलिटी असेसमेंट एवं डिटेक्शन के लिए मिला प्रशंसा पत्र

0
183
Abhijeet Kumawat Honored by NASA for Cybersecurity Excellence
Abhijeet Kumawat Honored by NASA for Cybersecurity Excellence

राष्ट्रीय वैमानिकी एवं अंतरिक्ष प्रशासन मैरी डब्ल्यू जैक्सन नासा मुख्यालय वाशिंगटन द्वारा महर्षि अरविंद इंस्टिट्यूट ऑफ़ साइंस एंड मैनेजमेंट जयपुर के बीसीए के छात्र अभिजीत कुमावत को नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन और नासा की भेद्यता प्रकटीकरण नीति (वीडीपी) की ओर से एक स्वतंत्र सुरक्षा शोधकर्ता के रूप में भेद्यता की पहचान करने और हमें जिम्मेदारी से इसकी रिपोर्ट करने में नासा की वीडीपी नीति और दिशानिर्देशों का पालन करने के प्रयासों के लिए प्रशंसा पत्र दिया गया है। यह प्रशंसा पत्र नासा के वरिष्ठ एजेंसी सूचना सुरक्षा अधिकारी द्वारा अभिषेक कुमावत को भेजा गया है

 Abhijeet Kumawat Honored by NASA for Cybersecurity Excellence
Abhijeet Kumawat Honored by NASA for Cybersecurity Excellence

ज्ञात रहे कि सुरक्षा कमजोरियों का पता लगाने और उन पर रिपोर्ट करने की क्षमता सूचना सुरक्षा उद्योग में एक मूल्यवान स्किल है। नासा ने बताया था कि अभिषेक कुमावत की रिपोर्टिंग ने नासा को उसके सिस्टम में अज्ञात कमजोरियों के बारे में जागरूकता प्रदान की है और हमें एजेंसी नासा की जानकारी की अखंडता और उपलब्धता की रक्षा करने में मदद की है।

नासा प्रशासन ने आगे बताया कि इस भेद्यता का पता लगाने और नासा को विज्ञान, प्रौद्योगिकी में अपनी प्रगति जारी रखने में बेहतर सक्षम बनाने के प्रयासों के लिए सराहना के प्रतीक के रूप में भारत में जयपुर के महर्षि अरविंद इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस एंड मैनेजमेंट के छात्र अभिषेक कुमावत को यह प्रशंसा पत्र प्रदान किया जाता है।

अंत में नासा प्रशासन द्वारा लिखे गए पत्र में लिखा है कि कि ज्ञान, शिक्षा, नवाचार, आर्थिक जीवन शक्ति और नेतृत्व को बढ़ाने के लिए वैमानिकी और अंतरिक्ष अन्वेषण पृथ्वी पर एक सुरक्षा समुदाय के रूप में हम सब इसमें एक साथ हैं और अभिषेक कुमावत की भागीदारी और विशेषज्ञता की सराहना की जाती है।

अभिषेक कुमावत ने आगे बताया कि इस कामयाबी में उनके गुरुजन सुनील चौहान डॉ अमन जैन एवं विपिन सिंह का आशीर्वाद महत्वपूर्ण था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here