INVC-NEWSआई एन वी सी न्यूज़

इंफाल ,
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज बुधवार को इंफाल (मणिपुर) में आयोजित जनसभा को संबोधित किया और राज्य की जनता से मणिपुर में भ्रष्टाचारी कांग्रेस को सत्ता से बेदखल कर दो-तिहाई बहुमत की भाजपा सरकार बनाने का आह्वान किया।भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि यह तय है कि मणिपुर से कांग्रेस की सरकार जानेवाली है और राज्य में भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार आने वाली है। उन्होंने कहा कि सांकृतिक रूप से सुसंस्कृत मणिपुर आज विकास से महरूम क्यों है, इसपर ध्यान दिए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री बनने के साथ ही श्री नरेन्द्र भाई मोदी ने ‘सबका साथ, सबका विकास’ का नारा दिया था और कहा था कि नार्थ-ईस्ट को भारत के विकास का इंजन बनायेंगें। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी का मानना है कि पूर्वोत्तर के विकास के बिना देश के सर्वांगीण विकास की कल्पना नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के इन ढ़ाई वर्षों में पूर्वोत्तर में बुनियादी ढाँचे के विकास और नार्थ-ईस्ट के लोगों की भलाई के लिए कई सारी योजनाओं की शुरुआत की गई है। उन्होंने कहा कि पहली बार किसी प्रधानमंत्री ने यह सुनिश्चित किया है कि केंद्र सरकार के मंत्री 15 दिनों में कम-से-कम एक दिन पूर्वोत्तर के किसी क्षेत्र में प्रवास अवश्य करें।श्री शाह ने कहा कि अटल जी ने पूर्वोत्तर के विकास के लिए डोनर मंत्रालय का गठन किया था जिसे कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन की सरकार ने यूपीए के 10 वर्षों के शासनकाल में बेकार बना दिया, अब प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने इसमें फिर से जान फूंकने का का काम किया है। उन्होंने कहा कि अब पूर्वोत्तर के विकास के लिए दिल्ली जाने की जरूरत नहीं है, मंत्रालय खुद नार्थ-ईस्ट के हरेक राज्यों में पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि नार्थ ईस्ट काउंसिल की बैठक कांग्रेस के समय पूर्वोत्तर में हुई ही नहीं, अब 10 वर्षों बाद प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने शिलॉंग में इसकी बैठक कर पूर्वोत्तर में विकास के रास्ते खोले हैं। उन्होंने कहा कि बैंगलोर और नई दिल्ली में पूर्वोत्तर के छात्रों के लिए अलग से कैम्पस खोलने का काम भारतीय जनता पार्टी ने किया है। उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर में उद्योग और व्यापार को और गति देने के लिए ‘मेक इन इंडिया’ की तर्ज पर ‘मेक इन नार्थ-ईस्ट’ का इनिशिएटिव लिया गया है। उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर में रेल कनेक्टिविटी और राजमार्गों के निर्माण पर खासा ध्यान दिया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने नार्थ-ईस्ट में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का इनिशिएटिव लिया पर कांग्रेस की मणिपुर सरकार इस इनिशिएटिव पर एक कदम भी आगे नहीं बढ़ा पाई है। उन्होंने कहा कि यदि यह इनिशिएटिव पहले ही ले लिया गया होता तो ओलम्पिक में देश को मेडल के लिए तरसना नहीं पड़ता। उन्होंने कहा कि मणिपुर खिलाड़ियों की खान है। उन्होंने कहा कि अगर हरियाणा और मणिपुर में खेल के क्षेत्र में विशेष ध्यान दिया जाए तो ओलंपिक खेलों में देश के लिए मेडल की कोई कमी नहीं रहेगी। उन्होंने कहा कि मणिपुर में विकास को धार देने के लिए ईशान विकास, ईशान उदय के साथ साथ पावर सेक्टर और दूरसंचार के क्षेत्र में काफी निवेश किया गया है ताकि राज्य से बेरोजगारी को ख़त्म किया जा सके। उन्होंने कहा कि हमारा सपना है कि मणिपुर के युवाओं को रोजगार के लिए बाहर न जाना पड़े बल्कि रोजगार खुद यहाँ चलकर आये।भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किये जा रहे पूर्वोत्तर में विकास के प्रयास मणिपुर में कांग्रेस की सरकार के रहते संभव नहीं हो सकता। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि मणिपुर में गरीब एवं विकास विरोधी कांग्रेस सरकार को बदलने का वक्त आ गया है।

मणिपुर की कांग्रेस सरकार पर करारा हमला करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने मणिपुर के विकास के लिए काफी वित्तीय सहायता उपलब्ध कराया है, लेकिन विकास का कोई काम राज्य में दिख नहीं रहा है। उन्होंने कहा कि एक नए पैसे का भी हिसाब तो छोड़ें, अभी तक मणिपुर की कांग्रेस सरकार पुराने 5000 करोड़ रुपये के काम का वर्क कम्पलीशन सर्टिफिकेट भी नहीं दे पाई है। उन्होंने कहा कि मणिपुर की कांग्रेस सरकार को उन 5000 करोड़ का हिसाब राज्य की जनता को देना होगा। उन्होंने कहा कि राज्य के विकास का पैसा, मणिपुर के गरीब लोगों तक पहुँचने के बजाय कांग्रेसियों के घरों में पहुँच गया है। उन्होंने मणिपुर की जनता का आह्वान करते हुए कहा कि यदि मणिपुर की जनता राज्य की कांग्रेस सरकार से 5000 करोड़ का हिसाब मांगेगी तो कांग्रेस यहाँ चुनाव लड़ने ही नहीं आयेगी क्योंकि कांग्रेस के पास इसका कोई हिसाब ही नहीं है। मणिपुर की कांग्रेस सरकार पर हमला जारी रखते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा मणिपुर के गरीब लोगों के लिए ट्रक का ट्रक सस्ता चावल भेजा जाता है लेकिन यह राज्य के लोगों तक सस्ते दामों में पहुँच ही नहीं पाता। उन्होंने कहा कि जो सरकार गरीबों का सस्ता चावल तक खा जाएँ, उनसे विकास की आशा ही कैसे की जा सकती है! उन्होंने कहा, “लेक और तालाबों की सफाई के लिए केंद्र की भाजपा सरकार ने मणिपुर को अलग से वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई, लेक तो साफ़ हुआ नहीं, हाँ, ग्रांट जरूर साफ़ हो गया।” उन्होंने कहा कि पुलिस भर्ती में भी सरेआम घूस लिया जाता है। उन्होंने राज्य की कांग्रेस सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि कब तक राज्य की कांग्रेस सरकार गरीबों को लूटती रहेगी, कांग्रेस सरकार कुछ तो शर्म करे।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देश के विकास और लोगों की भलाई के लिए चलाई जा रही अनगिनत योजनाओं का जिक्र करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि इनमें से एक भी योजना मणिपुर के गरीब लोगों तक नहीं पहुँच पाती, उसे बीच में ही मणिपुर की कांग्रेस सरकार द्वारा हवा कर दिया जाता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को देश की जनता ने नकार कर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के ’कांग्रेस मुक्त भारत’ के सपने को साकार करने की दिशा में अपना फैसला सुना दिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुक्त भारत के नारे को पूरा देश सफल बनाना चाहता है और यही कारण है कि कभी 400 से अधिक लोक सभा सदस्यों वाली कांग्रेस आज 44 पर सिमट कर रह गई है। उन्होंने मणिपुर की जनता से मणिपुर को भी कांग्रेस मुक्त बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि आने वाले राज्य विधान सभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की दो तिहाई बहुमत से सरकार बनाइये और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के हाथों को मजबूत कीजिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here