Close X
Tuesday, December 1st, 2020

5 साल के किसी उपलब्धि पर बहस कर लें नीतीश

 बिहार चुनाव का फीवर इस वक्त हाई हो चुका है. राज्य का ये सियासी तापमान तब तक रहने वाला है जब तक कि 7 नवंबर को आखिरी चरण के लिए वोट न पड़ जाएं. इस बीच एक ओर एनडीए तो एक ओर महागठबंधन एक दूसरे के 15 सालों का कच्चा चिट्ठा लेकर तैयार हैं. दोनों ही गठबंधन अपनी बारी को बेहतर और विपक्ष के टर्म को घटिया, बेकार और बकवास बता रहे हैं.  इसी सिलसिले में बीजेपी लालू यादव के 15 साल के शासन काल की डिक्शनरी लेकर आई है. बीजेपी की इस डिक्शनरी में कहा गया है कि 1990 से 2005 तक के उस दौर में क का मतलब क्राइम, ख का मतलब खतरा और ग के मायने गोली होती थी.  बीजेपी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इस डिक्शनरी को जारी किया है. जहां घ से घोटाला, च से चरवाहा विद्यालय. बीजेपी का कहना है कि ये ऐसा स्कूल था जहां पढ़ाई से ज्यादा बच्चों को छुट्टी मिलती थी. बीजेपी ने कहा है कि ये था ज.. लालू का जंगल राज.

1990 के दशक में लालू यादव के राज में बिहार में तैयार हुई एक भयानक डिक्शनरी!

क से क्राइम,
ख से खतरा,
ग से गोली...

याद है ना?

र से रंगदारी
ज से जंगलराज
द से दादागिरी

बीजेपी ने लालू की पार्टी 'राजद' का भी मतलब समझाया है. बीजेपी ने कहा है कि लालू राज में रा से रंगदारी, ज से जंगलराज और द से दादागिरी होता है. बीजेपी ने कहा है कि बिहार की जनता को इस डिक्शनरी के ज्ञान को न ही फिर से जानना है, न ही पढ़ना है.

15 साल के किसी उपलब्धि पर बहस कर लें नीतीश- तेजस्वी

वहीं तेजस्वी यादव ने भी नीतीश कुमार को चुनौती देते हुए कहा है कि वे अपने 15 साल के कार्यकाल के किसी भी उपलब्धि पर बहस तैयार कर लें, इसके लिए वे तैयार हैं. PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment