फ्रांस में G7 समिट में सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच होने वाली मुलाकात से पहले अमेरिका ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के मामले में भारत का समर्थन किया है. अमेरिका ने अपना एक बार रुख साफ करते हुए कहा है कि अनुच्छेद 370 हटाना भारत का आंतरिक मामला है. इसके साथ ही अमेरिका ने पाकिस्तान को लताड़ लगाते हुए कहा है कि वह आतंकवाद पर लगाम लगाए.


ट्रंप प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को हटाया जाना एक आंतरिक मामला है. अमेरिका चाहता है कि भारत-पाकिस्तान तनाव कम करने के लिए बातचीत के जरिये अपने सभी मुद्दे सुलझाएं." अधिकारी ने पाकिस्तान को फटकार लगाते हुए कहा, "पाकिस्तान को एलओसी पर आतंकी समूहों पर लगाम लगाना चाहिए." 


यह पहला मौका नहीं है जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को फटकार लगाई हो. इससे पहले, 20 अगस्त को ट्रंप ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को भारत के खिलाफ भड़काऊ बयान न देने के लिए कहा था. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से फोन पर करीब 30 मिनट बात करने के बाद ट्रंप ने इमरान खान से 12 मिनट बात की थी. ट्रम्प ने उन्हें भारत के खिलाफ संभलकर बयानबाजी करने को कहा था. दरअसल, पीएम मोदी ने ट्रंप से बातचीत के दौरान पाकिस्तानी नेताओं द्वारा ‘भारत विरोधी हिंसा के लिए उग्र बयानबाजी और उकसावे' का मुद्दा उठाया था. PLC.