भूटान के दो दिनी दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को रॉयल यूनिवर्सिटी ऑफ भूटान के छात्रों को संबोधित किया. इस दौरान उन्‍होंने कहा कि 130 करोड़ भारतीयों के दिल में भूटान बसता है. भूटान के सौंदर्य से दुनिया प्रभावित होती है. उन्‍होंने कहा कि मैं आज भूटान के भविष्य के साथ हूं. भारत गरीबी से तेजी से लड़ रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि भारत और भूटान के बीच एक खास रिश्‍ता है. दोनों देशों के साझा सपने हैं.

पीएम मोदी ने भारत के अंतरिक्ष प्रोग्राम का जिक्र करते हुए कहा कि हम 2022 तक किसी भारतीय को अंतरिक्ष पर भेजेंगे. मैं आशा करता हूं कि भूटान भी सैटेलाइट बनाएगा. उन्‍होंने कहा कि यह बेहद खुशी की बात है कि भूटान के वैज्ञानिक अपने देश की छोटी सैटेलाइट के डिजाइन और उसकी लॉन्चिंग पर कार्य करने के लिए भारत जाने वाले हैं. मैं यह भी आशा करता हूं कि आप सभी छात्रों में कई वैज्ञानिक और इंजीनियर बनेंगे.
पीएम मोदी ने कहा कि आज के दौर में भारत में ऐतिहासिक बदलाव हो रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि भारत और भूटान जैसी समझ किसी देश में नहीं है. भारत और भूटान सिर्फ भूगोल के लिहाज से ही करीब नहीं हैं, बल्कि हमारी संस्‍कृति, इतिहास और परंपराएं के कारण दोनों देशों के लोगों में जुड़ाव है.
पीएम मोदी ने कहा, मैंने भगवान बुद्ध की शिक्षा से प्रेरित होकर 'एक्‍जाम वॉरियर्स' किताब लिखी. आप छात्र लोग परीक्षा का तनाव ना लें.' उन्‍होंने कहा कि यूवा और आध्‍यात्मिकता हमारी ताकत है. मौजूदा दौर में दुनिया में अवसरों की कोई कमी नहीं है. इन अवसरों का युवा फायदा उठाए.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भूटान दौरे का आज दूसरा दिन है. पीएम मोदी आज नेशनल मेमोरियल भी जाएंगे. इससे पहले शनिवार को पीएम मोदी ने भूटान में रुपे कार्ड लांच किया और नौ समझौता ज्ञापनों (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए. इनमें से एक समझौते के तहत इसरो थिम्पू में अर्थ स्टेशन बनाएगा. इसके अलावा दोनों देशों के बीच एक बिजली खरीद समझौता भी हुआ. पीएम मोदी दो दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर शनिवार को भूटान पहुंचे. प्रधानमंत्री यहां दोनों देशों के द्विपक्षीय रिश्तों को अधिक मजबूत करने के लिए भूटानी नेताओं के साथ चर्चा करेंगे. PLC.