Friday, February 28th, 2020

1 लाख वाहन का पार करना भारतीय बाजार के प्रति हमारी प्रतिबद्धता प्रदर्शित करता है : लॉवेल पैडॉक

आई.एन.वी.सी,, लखनऊ,, जनरल मोटर्स ने अपने तालेगाँव उत्पादन केन्द्र में पावरट्रेन सुविधा की मदद से 1 लाख इंजन का लक्ष्य 13 दिसम्बर 2012 को पार कर लिया है। यह ऐतिहासिक उपलब्धि शेवरले बीट और शेवरले क्रूज की बढती लोकप्रियता के तथा शेवरले पोर्टफोलियो और शेवरले शैल-यू वीए के प्रति लोगों के रूझान के चलते प्राप्त की गई है। तालेगाँव इंजन फेसेलिटी जनरल मोटर्स का विश्व का प्रथम पावरट्रेन प्लांट है जो पेट्रोल और डीजल इंजनों का एक साथ निर्माण करता है। यह अतुलनीय प्लांट नवंबर 2010 में 230 बिलियन धनराशि से निर्मित किया गया था। इस की वार्षिक उत्पादन क्षमता 1 लाख 60 हजार इंजन है तथा 2 वर्ष की अवधि के दौरान प्लांट ने 1 लाख के लक्ष्य को पार करने के साथ ही गुणवता को बरकरार रखा है। इस मौके पर जनरल मोटर्स इंडिया के प्रेसीडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर श्री लॉवेल पैडॉक ने कहा कि यह हम सबके लिए गौरव का क्षण है। 1 लाख वाहन का पार करना भारतीय बाजार के प्रति हमारी प्रतिबद्धता प्रदर्शित करता है। शेवरले शैल-यूवीए की लांचिग तथा भविष्य में शेवरले शैल तथा शेवरले इनज्वाय की लांचिंग के साथ हम प्रोडक्शन में इजाफा करेंगे। हमारी नजर नये लक्ष्यों और कीर्तिमानों पर है तथा हम इंडियन आटोमोबाइल्स मार्केट में उत्तम वाहन उतारेंगे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment