Close X
Sunday, January 17th, 2021

‎बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण से पहले आयकर विभाग की 30 टीमों ने कई शहरों में मारे छापे

पटना । ‎बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण से पहले आयकर विभाग की 30 टीमों ने गुप्त सूचना के आधार पर राज्य के विभिन्न शहरों में सर्च ऑपरेशन किया और करोड़ों की ज्वेलरी, नकदी और जमीन के दस्तावेज बरामद किया। आयकर ‎विभाग की टीमों ने पटना, हिलसा, भागलपुर, पूर्णिया, कटिहार और गया में एक साथ छापेमारी की। जानकारी के अनुसार, आयकर टीम हाल के दिनों में कई कार्रवाई कर चुकी है और दूसरे चरण के चुनाव से पहले यह अभियान जारी रहेगा। देर शाम को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीम ने कारोबारी और सरकारी काम लेने वाले ठेकेदारों के खिलाफ बड़ा सर्च आपरेशन चलाया। इस दौरान  करोड़ों की नकदी, गहने और संपत्ति जब्त की गई है। सरकारी काम करने वाले ठेकेदारों और स्टोन चिप्स कारोबारियों के यहां 4 सर्च और 8 सर्वे की कार्रवाई की गई है। आयकर विभाग की टीम ने पटना में गणाधिपति कंस्ट्रक्शन एजेंसी के मालिक जर्नादन प्रसाद के पांच ठिकानों पर छापा मारे की। इस दौरान टीम को फ्रेजर रोड, दीघा, कदमकुआं, हनुमान नगर स्थित कार्यालय, आवास और फैक्ट्री पर जांच-पड़ताल में आयकर टीम को काफी नकदी, करोड़ों के लेनदेन के साथ ही बैंकों के अलावा विभिन्न बचत योजनाओं में निवेश और करोड़ों की संपत्ति के कागजात मिले हैं। इसके अलावा आयकर विभाग की टीम ने नालंदा इंजीकॉन प्राईवेट लिमिटेड के पटना और हिलसा स्थित 9 ठिकानों पर भी तलाशी ली। बता दें कि ये दोनों एजेंसी राज्य सरकार के विभिन्न विभागों की कई योजनाओं का काम करती हैं, जिसमें नल-जल योजना भी शामिल है। कंपनी के मालिक विवेकानंद कुमार के घर व कार्यालय की तलाशी ली गई है। सर्च टीम को इनके यहां से भी नकदी, करोड़ों रुपए के लेनदेन के दस्तावेज मिले हैं। सर्च टीम ने भागलपुर, पूर्णिया और कटिहार में भी अलग-अलग स्थानों पर दो सरकारी ठेकेदारों के यहां कार्रवाई की, जहां से टीम को 50 लाख से अधिक की नकदी ‎मिली थी। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment