आई एन वी सी न्यूज़
​​रांची​,​

  • मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास आज जुडिशियल एकेडमी धुर्वा रांची में आयोजित झारखंड बीपीओ/बीपीएम सम्मिट 2019 में सम्मिलित हुए
  • मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने राज्य में 16 नए बीपीएम/बीपीओ कंपनी का विधिवत शुभारंभ किया
  • नए बीपीएम/बीपीओ कंपनियों के शुभारंभ से झारखंड के 15,500 युवक-युवतियों को रोजगार मिलेंगे
  • 7 नए बीपीएम/बीपीओ कंपनीज एवं 6 स्टार्टअप कंपनी साथ आईटी एवं ई-गवर्नेंस विभाग झारखंड सरकार के साथ समझौता (MoU) हुआ
  • भारत को आर्थिक सुपर पावर बनाने में झारखंड निर्णायक भूमिका निभायेगा
  • ​पिछले साढे 4 वर्ष में नए उद्योग में प्रत्यक्ष रोजगार के रूप में 72000 लोगों को नौकरी
  • राज्य गठन के बाद 18 नई नीतियां बनाई
  • सुरक्षित झारखण्ड बनाया, उग्रवाद अंतिम सांसे गिन रहा है - रघुवर दास, मुख्यमंत्री झारखंड​​


मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि​​ झारखंड संभावनाओं से भरा प्रदेश है. निवेशक राज्य के प्रत्येक सेक्टर में निवेश कर अपनी आमदनी के साथ-साथ यहां के लोगों को रोजगार उपलब्ध कराएं यह सरकार का लक्ष्य है. राज्य गठन के बाद से ही सरकार ने विभिन्न सेक्टर में 18 नई पॉलिसी बनाई. झारखंड की इंडस्ट्रियल पॉलिसी पूरे देश में सराहनीय रहा है. राज्य सरकार ने सामूहिक श्रम क्षमता को सुदृढ़ करने एवं रोजगार के सृजन को महत्वपूर्ण माना और इसी उद्देश को पूरा करने के लिए झारखंड बीपीएम/बीपीओ नीति 2016 का सृजन किया. आज हमारी नीतियों से प्रेरित होकर देश-विदेश के कई जाने-माने उद्योगपति झारखंड में निवेश करने की इच्छा जता चुके हैं और निवेश हो भी रहा है. सबसे अधिक निवेश वस्त्र उद्योग, खाद्य प्रसंस्करण, ऑटो कॉम्पोनेंट और कृषि के क्षेत्र में हो रहे हैं. उक्त बातें मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने आज जुडिशियल एकेडमी धुर्वा रांची में आयोजित बीपीएम/ बीपीओ सम्मिट 2019 को संबोधित करते हुए कहीं.

अच्छी नीयत और नीति से ही हुआ है सुधार

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि टीम झारखंड द्वारा की मेहनत और ईमानदार छवि के चलते ही आज झारखंड देश में मिसाल कायम कर रहा है. राज्य सरकार द्वारा अच्छी नीयत और अच्छी पॉलिसी का ही परिणाम रहा है कि राज्य की छवि में सुधार हुआ है. हर पॉलिसी जनहित के लिए बनाई जा रही है. यही कारण है कि हर सेक्टर में निवेश हो रहा है और रोजगार के अवसर बढ़ रहे हैं.

राज्य में 3 मेगा पावर प्लांट का हो रहा है निर्माण

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि पावर सेक्टर के क्षेत्र में काफी निवेश हो रहा है. राज्य में 3 मेगा पावर प्लांट जिसमें 45000 करोड़ की राशि से निर्माण कराया जा रहा है जल्द ही स्थापित होगा. उन्होंने कहा कि पुरानी बंद पड़ी इकाइयों को पुनर्जीवित किया जा रहा है. 107 ऐसे पुरानी बंद पड़ी इकाइयां थी जिन को फिर से चालू किया गया. आदित्यपुर इंडस्ट्रियल एरिया में भी जो भी पुरानी बंद इकाइयां थी उन्हें पुनर्जीवित किया गया है जिससे रोजगार के अवसर में वृद्धि हुई है. पिछले साढे 4 वर्ष में नए उद्योग में प्रत्यक्ष रोजगार के रूप में 72000 लोगों को नौकरी मिली है.

एग्रीकल्चर, इंडस्ट्री और सूचना प्रौद्योगिकी सरकार की प्राथमिकता

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा एग्रिकल्चर, इंडस्ट्रीज एवं सूचना प्रौद्योगिकी (AIIT) राज्य सरकार की प्राथमिकता है. बड़े-बड़े कल कारखानों में मशीनीकरण होने के कारण श्रमिककरण में कमी आई है परंतु इस कमी को आईटी सेक्टर में ही रोजगार उपलब्ध कराकर पूरा किया जा सकता है. झारखंड में विहीन आईटी का विस्तार कर युवाओं को बड़ी संख्या में रोजगार दिया जा रहा है.

विकास का सीधा संबंध रोजगार से है

मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास का सीधा संबंध रोजगार से है. बेरोजगारी राज्य की ही नहीं बल्कि देश की बड़ी समस्या है. राज्य से बेरोजगारी दूर करना मेरा लक्ष्य है. हर हाथ को हुनर और हर हाथ को काम देना सरकार का उद्देश रहा है. ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में हम चौथे स्थान पर हैं. पूरे देश में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में झारखंड अव्वल राज्य बने यह हम सभी की प्राथमिकता होनी चाहिए. लेबर रिपोर्ट्स में भी झारखंड अग्रणी राज्यों में शुमार है. राज्य सरकार द्वारा श्रम नियम में संशोधन किया गया है. अब महिलाएं भी 24 घंटे में रात वाले शिफ्ट में भी काम कर सकेंगी.

हमारा ध्यान ज्ञान, विज्ञान और तकनीक पर

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि हमारी सरकार हर हाथ को काम देने के पक्षधर है. इसलिए हमारा ध्यान ज्ञान, विज्ञान और तकनीक पर है. समय के साथ आगे बढ़ना जरूरी है. नई नई तकनीक को बदलते समय के साथ नहीं अपनाएंगे तो चीजें समय के साथ आगे नहीं बढ़ पाएंगी. इसी को ध्यान में रखते हुए बीपीएम/बीपीओ नीति 2016 बनाया गया. उन्होंने कहा कि बीपीओ/बीपीएम एवं आईटी सेक्टर उद्योग के विकास के लिए राज्य में DoP (उत्पादन की तिथि) के लिए SoP (Standard operating Procedure) को बनाया गया.

प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया के सपने को पूरा करना है

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को पूरा करने में झारखंड अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के युवाओं को दिशा देने का कार्य किया है. युवाओं के डिग्रियों का इस्तेमाल किस तरह हो और उन्हें रोजगार कैसे मिले इसकी चिंता प्रधानमंत्री ने की है. हर हाथ को हुनर और हर हाथ को काम देने के लिए प्रधानमंत्री ने पहली बार स्किल डेवलपमेंट मंत्रालय का गठन किया है. देश में पहली बार स्टार्टअप इंडिया और डिजिटल इंडिया को बढ़ावा मिल रहा है.

आईटी के बेहतर प्रयोग से शासन और जनता के बीच की दूरी कम हुई

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि आईटी के बेहतर उपयोग होने से शासन और जनता के बीच की दूरियां कम हुई हैं. जनता की मूलभूत सुविधाओं को आईटी के माध्यम से ही उपलब्ध कराया जा रहा है. जनता की समस्याओं का निदान आईटी से सुलभ हुआ है. उन्होंने कहा कि आई गवर्नेंस के माध्यम से गांव में ही लोगों को सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है. ग्रामीण क्षेत्रों में बीपीओ एवं बीपीएम के माध्यम से जन सेवा का मौका मिल रहा है.

झारखंड के लोग सरल, मेहनतकश एवं इमानदार

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि झारखंड के लोग काफी सरल मेहनतकश और ईमानदार हैं. यहां के श्रमिकों की कार्यकुशलता बेहतरीन है. यही कारण है कि झारखंड के लोग जहां भी जाते हैं अपनी ईमानदार छवि के चलते निवेशकों के दिलों में बस जाते हैं. झारखंड के बच्चे बच्चियां काफी अनुशासित हैं.

अमेरिका में भी भारत के युवाओं ने बनाई है अपनी पहचान

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि मैं वर्ष 2016 में अमेरिका के कैलिफोर्निया भ्रमण पर गया था. वहां काफी लोग भारतीय हैं और कई तो झारखंड से भी हैं. सभी लोग अपने कार्यकुशलता के बदौलत जाने पहचाने जा रहे हैं.

भारत बनेगा आर्थिक सुपर पावर

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत आने वाले समय में आर्थिक सुपर पावर बनेगा. भारत को आर्थिक सुपर पावर बनाने में झारखंड निर्णायक भूमिका निभाये, यह हम सभी का लक्ष्य होना चाहिए. समाज के सभी वर्गों को रोजगार से जोड़ कर हम उन्हें आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाएं और राज्य को विकसित बनाने में अपनी भूमिका निभाए.

झारखंड में सुरक्षा व्यवस्था हुआ है चुस्त-दुरुस्त, उग्रवाद अपनी अंतिम सांसे गिन रहा है

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस प्रदेश में शांति का माहौल होगा, वातावरण अच्छी होगी, पारदर्शी शासन होगा निवेशक वही आएंगे. वर्तमान सरकार के गठन के बाद से ही राज्य में सुरक्षा व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त किया गया है. सुरक्षित झारखण्ड बनाने का प्रतिबद्ध प्रयास किया गया. राज्य से उग्रवाद अब अंतिम सांसे गिन रहा है. निवेशक अब किसी भी जिले में आसानी से निवेश कर सकते हैं. सुरक्षा की जिम्मेदारी सरकार की है. सरकार इसे बखूबी निभाती रही है.

झारखंड में बैंगलोर जैसा ही मौसम

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि बेंगलुरु, हैदराबाद आदि में बीपीओ चलाने की लागत बहुत अधिक है एवं लगभग सेचुरेट हो गया है. उन्होंने कहा कि झारखंड में बेंगलुरु जैसा ही मौसम है और हम निवेशकों को सभी सुविधा उपलब्ध करा रहे हैं इसलिए झारखंड में भी काफी संख्या में बीपीओ आएं यही सरकार का लक्ष्य है.

इस अवसर पर *मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ सुनील कुमार वर्णवाल ने कहा कि राज्य सरकार की इंडस्ट्रियल पॉलिसी एवं बीपीओ/बीपीएम पॉलिसी के संबंध में विस्तृत जानकारी दी.

आईटी विभाग के प्रधान सचिव श्री राजीव अरुण एक्का ने एडवांटेज झारखंड के संबंध में सभी सेक्टर के कार्य योजनाओं को बताया.

इस अवसर पर प्रधान सचिव आईटी विभाग श्री राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ सुनील कुमार वर्णवाल, सचिव उद्योग विभाग श्री के रवि कुमार, महानिदेशक एसटीपीआई श्री ओंकार राय, आईटी निदेशक श्री उमेश प्रसाद साह, नैसकॉम के श्री परेश देगांवकर सहित विभिन्न बीपीओ/बीपीएम के प्रतिनिधि आईटी सेक्टर से जुड़े विशेषज्ञ एवं बड़ी संख्या में युवक युवतियां उपस्थित थे.