आई एन वी सी न्यूज़
रांची,​​​

  • खूंटी सदर अस्पताल राज्य का 11वाँ सदर अस्पताल बना जहाँ सर्वाइकल प्री-कैंसर के पहचान एवं इलाज की मशीने लगीं
  • संसदीय कार्य एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री नीलकंठ सिंह मुंडा की वितीय सहायता से खूंटी की महिलाओं के इलाज के लिए सदर अस्पताल में मशीन लगी

माननीया राज्यपाल श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने आज “मेगा महिला स्वास्थ्य शिविर” एवं “ज्योत से ज्योत जलाओ अभियान” का सदर अस्पताल, खूंटी में उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि महिलाओं को स्वस्थ रहना बहुत जरूरी है। महिलाएं स्वस्थ रहेंगी तभी अपने परिवार का ध्यान रख पायेंगी। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सदर अस्पतालों का लगातार सुदृढ़ीकरण किया जा रहा है तथा मशीनें लगाई जा रही है। चिकित्सकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है ताकि मरीजों को इलाज कराने में किसी तरह की कठिनाई न हो। 


इस शिविर का आयोजन वीमेन डॉक्टर्स विंग आई. एम. ए. झारखण्ड, आल इंडिया नेत्र सोसाइटी, झारखण्ड नेत्र सोसाइटी, कश्यप मेमोरियल आई होस्पिटल एवं स्वास्थ्य विभाग झारखण्ड सरकार के संयुक्त तत्वावधान में किया गया।


श्री नीलकंठ सिंह मुंडा, मंत्री, संसदीय कार्य एवं ग्रामीण विकास विभाग ने कहा कि ​​स्वास्थ्य सबसे बड़ा धन है और स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए सभी को सजग रहना चाहिए। शारीरिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए नियमित रुप से व्यायाम करना चाहिए और शारीरिक श्रम करना चाहिए। उन्होंने खूंटी में कैंप लगाकर यहां के लोगों की आंखों की बीमारियों का इलाज कराने पर बल ​​दिया।


राज्यपाल श्रीमती द्रौपदी मुर्मू के द्वारा खूंटी के विधायक एवं संसदीय कार्य एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री नीलकंठ सिंह मुंडा के द्वारा वित् प्रदत डिजिटल वीडियो कॉलपोस्कॉप और क्रायो मशीन के सेट खूंटी की जनता को सुपुर्द किया गया।


इस महिला स्वास्थ्य शिविर में वीमेन डॉक्टर्स विंग आई. एम. ए. झारखण्ड की स्त्री रोग विशेषज्ञों की टीम द्वारा शिविर में आने वाले सभी महिला मरीजों का इलाज किया गया एवं इसके साथ ही सभी सरकारी स्त्री रोग विशेषज्ञों को नई लगी सर्वाइकल प्री-कैंसर की जाँच एवं इलाज की डिजिटल वीडियो कॉलपोस्कॉप से जाँच एवं क्रायो से उपचार का प्रशिक्षण भी प्रदान कराया गया। शिविर में आने वाली सभी महिलाओं को एक महीने की आयरन फोलिक एसिड एवं एवं कैल्शियम की गोलियां मुफ्त बांटी गयी। 


इस कार्यक्रम में राज्य में वीमेन डॉक्टर्स विंग आई.एम.ए. झारखण्ड के द्वारा लगातार लगाये जा रहे मेगा महिला स्वास्थ्य शिविरों के लिए डॉ. भारती कश्यप, चेयरपर्सन, वीमेन डॉक्टर्स विंग आई.एम.ए. झारखण्ड को राज्यपाल श्रीमती द्रौपदी मुर्मू द्वारा सम्मानित किया गया।


खूंटी सदर अस्पताल राज्य के 23 सदर अस्पताल में से 11वाँ सदर अस्पताल बन गया है जहाँ गर्भाशय ग्रीवा के प्री-कैंसर के पहचान एवं उपचार की मशीनों की व्यवस्था की जा चुकी है। हमारे देश में ब्रेस्ट एवं सर्वाइकल कैंसर से ही सबसे ज्यादा महिलाओं की मृत्यु होती है। सरकारी अस्पतालों में सर्वाइकल प्री-कैंसर के उपचार एवं पहचान के उपकरणों को लगाने के लिए राज्य में 11 सरकारी अस्पतालों में गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर के पहचान एवं उपचार की सुविधा उपलब्ध हो सकी है।


डॉ. बिभूति कश्यप ने बताया की डायबिटिज से रौशनी खो रहे मरीजों के लिए ज्योत से ज्योत जलाओ राष्ट्रिय अभियान के तहत झारखण्ड का छठा शिविर आज खूंटी में लगाया गया । देश की सभी नेत्र सोसाइटी के साथ मिल कर डायबिटिक रेटिनोपैथी पर एक पैन इंडिया रिसर्च की शुरुआत की है ।