Close X
Tuesday, April 20th, 2021

​सज्जण कुमार की जमानत के मामले हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी दिल्ली सिख

​आई एन वी सी न्यूज़ नई दिल्ली,
  • विशेष जांच टीम को भी चुनौती की अपील करेंगे : सिरसा

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डी एस जी एम सी) के महासचिव श्री मनजिंदर सिंह सिरसा ने आज ऐलान किया कि दिल्ली हाई कोर्ट की तरफ से जनकपुरी और विकासपुरी के तीन सिखोंके हत्याकांड के मामलो में सज्जण कुमार की जमानत बारे दिए फैसले को दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देगी। हाई कोर्ट की तरफ से सज्जण कुमार की पेशगी जमानत रद्द करने के लिए विशेष जांच टीम (एस.आई.टी.) की तरफ से पाई पटीशन रद्द करने के फैसले पर प्रतीकर्म देते हुए श्री सिरसा ने कहाकि यह फैसला सिख भाईचारे के लिए हैरानी भरा है क्योंकि भाईचारा आशा कर रहा था कि निचली अदालत की तरफ से दी पेशगी जमानत हाई कोर्ट रद्द कर देगा। उन्होंने कहा कि सज्जणकुमार एक प्रभावशाली नेता है जो 1984 के सिख हत्याकांड के मामलों में पिछले 34 वर्षों से जांच एजेंसियों को चकमा देता आ रहा है। उन्होंने कहा कि उसको तुरंत गिरफ्तार करके उस सेहिरासती पूछ-ताछ होनी चाहिए जिससे हत्याकांड में उसके दोष साबित किए जा सकें। श्री सिरसा ने केह कि दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी विशेष जांच टीम को भी कहेगी कि वह हाई कोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे। उन्होंने कहा कि चाहे दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी मामलो मेंअलग पटीशन दायर करेगी परन्तु विशेष जांच टीम का यह फर्ज बनता है कि वह फैसले को चुनौती दे और उन को उम्मीद है कि वह ऐसा करेगी। दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के महा सचिव ने ओर कहा कि सिख संस्था इन मामलों को फैसला कुन दौर तक लेजाने के लिए दृढ़ संकल्प है और वह यकीनी बनाऐगी कि सज्जण  कुमार, जगदीशटाइटलर और अन्य दोषी सलाखों के पीछे जाएं। उन्होंने कहा कि हत्याकांड बारे ताजा सबूत सामने आने बाद में उन को आशा है कि अंत सिखों को न्याय मिलेगा। यहां वर्णनयोग है कि जिस केस में आज हाई कोर्ट का फैसला आया है वह सोहण सिंह और उसके जमाई अवतार सिंह की जनकपुरी में और गुरचरन सिंह को विकासपुरी में जीते साडऩ के साथसंबधित है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment