Close X
Friday, October 30th, 2020

हुर्रियत का पाकिस्तानी उच्चायुक्त से मिलना भारत-विरोधी कदम : हिन्दू महासभा

चन्द्र-प्रकाश-कौशिक11आई एन वी सी न्यूज़ नई दिल्ली, अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश कौशिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने एक संयुक्त वक्तव्य जारी करके हुर्रियत के नेताओं का पाकिस्तानी उच्चायुक्त के अधिकारीयों से मिलने को भारत-विरोधी कदम बताते हुए अलगाववादियों की गिरफ़्तारी की मांग की. गौरतलब है कि पिछले दिनों पाकिस्तानी उच्चायोग के अधिकारियों से कश्मीरी अलगाववादी नेताओं के मिलने की वजह से केंद्र सरकार ने पाकिस्तान से होने वाली विदेश सचिव स्तर की वार्ता रद्द कर दी थी, लेकिन हिन्दू महासभा नेताओं ने इस बात की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि पाकिस्तान के सुधरे बिना मोदी सरकार ने बातचीत शुरू ही क्यों की? राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कौशिक ने स्पष्ट कहा कि भारत के विदेश सचिव एस. जयशंकर को पाकिस्तान सरकार से बातचीत का माहौल तैयार करने की जिम्मेवारी दी गयी, जिसे पाकिस्तान ने हमारी कमजोरी समझा है. वहीं राष्ट्रीय महामंत्री श्री शर्मा ने इस बात पर ध्यान दिलाते हुए कहा कि कश्मीर के अलगाववादी नेताओं से पाकिस्तानी अधिकारियों का मिलना भारत के आंतरिक मामलों में सीधा हस्तक्षेप है, और इस प्रकार के देशद्रोहियों को तत्काल जेल में डाल दिया जाना चाहिए. राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ़्ती मोहम्मद सईद द्वारा पाकिस्तान की प्रशंसा किये जाने को भारतीय गणतंत्र का अपमान बताते हुए भाजपा से तुरंत अपना समर्थन वापस लेने लेने की मांग की. हिन्दू महासभा नेताओं का स्पष्ट मानना है कि कश्मीर की मुफ़्ती सरकार आतंकियों एवं पाकिस्तान की हितैषी है, और जितने दिन भी यह सरकार प्रदेश में रहेगी, भारत राष्ट्र को नुक्सान पहुंचती रहेगी. हिन्दू महासभा नेताओं ने स्पष्ट कहा कि अब केंद्र की मोदी सरकार ख़ामोशी से काम नहीं चला सकती, उसे उन तमाम मुद्दों पर अपनी राय स्पष्ट करनी होगी, जो भारत की अखंडता और संप्रभुता से जुड़े हुए हैं, अन्यथा हिन्दू महासभा राष्ट्रव्यापी आंदोलन करने को मजबूर होगी.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment