Tuesday, October 15th, 2019
Close X

हुनर विकास केंद्र शीघ्र ही स्थापित किया जायेगा

prakashsinghbadalआई एन वी सी  न्यूज़ चंडीगढ़, पंजाब सरकार द्वारा कपूरथला में 17 करोड़ की लागत से ड्राईविंग प्रशिक्षण एवं अनुसंधान संस्थान तथा एक हुनर विकास केंद्र शीघ्र ही स्थापित किया जायेगा। यह जानकारी देते हुये मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि कल सांय मुख्यमंत्री निवास स्थान  मुख्यमंत्री स प्रकाश सिंह बादल की अध्यक्षता में परिवहन विभाग के कामकाज़ संबंधी हुई समीक्षा बैठक के दौरान यह फैसला लिया गया। इस अवसर पर परिवहन विभाग के प्रधान सचिव श्री अनुराग अग्रवाल ने एक प्रस्तुति द्वारा विभाग की चल रही गतिविधियों संबंधी जानकारी दी। बैठक के दौरान श्री अग्रवाल ने मुख्यमंत्री को बताया कि श्री मुक्तसर साहिब के माहुआणा में स्टेट इंस्टीच्यूट ऑफ ऑटोमेटिव एंड ड्राईविंग स्किलज़ पहले ही कार्य कर रहा है और हैवी गाडिय़ों के लिए दो और ट्रैक बनाये जा रहें हैं जिनमें रिज़नल ड्राईविंग ट्रेनिंग सैंटर मलेरकोटला एवं हैवी व्हीकल ड्राईविंग टैस्टिंग ट्रैक गुरदासपुर शामिल हैं जो शीघ्र ही अमल में आ जायेंगे। इसके अतिरिक्त गाडिय़ों की जांच के लिए कपूरथला में भी एक टैस्टिंग स्टेशन बनाया जा रहा है। राज्य परिवहन विभाग ऑटोमोटिव सर्विस टैकनिश्यन, ऑटोमोटिव बॉडी टैकनिश्यन और ऑटो मोटिव इलैक्ट्रीशयन के हुनर प्रशिक्षण देने हेतू मर्सडीज़ (मैसर्ज डाइलमर इंडिया) से पहले ही समझौता कर लिया है। इस इंस्टीच्यूट के बनाये जा रहे कंपलैक्स में 6 क्लासरूम एक ऑडीटोरियम, कमेटी रूम, कंटीन और पुस्तकालय के अतिरिक्त 75 शिक्षार्थीयों के लिए होस्टल की व्यवस्था होगी। इसके अतिरिक्त मलेरकोटला में भी एक ड्राईविंग प्रशिक्षण केंद्र स्थापित किया जायेगा जिसके लिए भारत सरकार 5 करोड़ रुपये तक के आंशिक फंड देगी। इसके ट्रेक का निर्माण कार्य लोक निर्माण विभाग द्वारा आरंभ किया जायेगा और यह ट्रेक व्यापारिक वाहनों के लिए ड्राईविंग टेस्ट करवाने हेतू इस्तेमाल किया जायेगा। यहां भी हुनर विकास की सुविधा होगी। एक अन्य महत्वपूर्ण फैसला लेते हुये कपूरथला में 14.40 करोड़ रुपये की लागत से अधिकारित टेस्टिंग स्टेशन स्थापित करने का फैसला किया है। यहां वैज्ञानिक ढंग से गाडिय़ों की जांच होगी। इसका कार्य पहले ही सैंट्रल इंस्टीच्यूट ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट क ो अलॉट कर दिया गया है। इसकी 20 हजार लाइट मोटर गाडिय़ों और 13 हजार हैवी मोटर गाडिय़ों से निपटने की क्षमता होगी। लाइट गाडिय़ों (गैर व्यापारिक)के लिए ड्राईविंग लाईसैंस हेतू राज्य के परिवहन विभाग ने 22 जिलों में ऑटोमोटिड 32 ड्राईविंग टेस्ट ट्रेक स्थापित करने के अतिरिक्त लुधियाना में एक अतिरिक्त केंद्र भी स्थापित किया है। इसके साथ ही बटाला, जगराओं, खन्ना, दसूहा, फिल्लौर, पातड़ा, फगवाड़ा एवं अबोहर में 9 सब-डिवीज़नल कार्यलय बनाये गये हैं। विभाग ने एक ट्रेनिंग सैंटर खोलने के लिए मारूति उद्योग लि. के साथ एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किये हैं। श्री अनुराग अग्रवाल ने यह भी बताया कि चैक पोस्टों का कंप्यूटरी करण पूरे जोरशोर से चल रहा है। लोगों को सफर की आरामदायक सुविधांए मुहैया करवाने के लिए पी आर टी सी में 400 और पनबस एवं पंजाब रोडवेज़ में 510 नई बसें डाली जा रही हैं। उन्होंने कहा कि यह बसें पड़ाववार डाली जायेंगी और यह सभी नई बसें आगामी 6 महीनों में चलेंगी। मुख्यमंत्री ने इन 32 केंद्रों के कामकाज को बिना किसी अड़चन से यकीनी बनाने हेतू डी टी औ की 2, ए डी टी औ की 23, मोटर व्हीकल्ज इंस्पैक्टरों की 10 तथा क्लर्को की 112 रिक्तियों की भरने की स्वीकृति दी है। मुख्यमंत्री ने प्रधान सचिव परिवहन को पी आर टी सी पटियाला की वर्कशाप में बॉडी बिल्डिंग सुविधांओं का जायजा लेने के  लिए कहा जिसको इस समय फंड

Comments

CAPTCHA code

Users Comment