हुड्डा ने कांग्रेस उम्मीदवारों के लिए वोट मांगे

0
56

ब्यूरो

झज्जर (हरियाणा). हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा है कि प्रदेश के कांग्रेस प्रत्याशियों को टिकट वितरण के बाद कांग्रेस की यह नीति एक बार फिर से प्रमाणित हो गई है कि कांग्रेस 36 बिरादरी के लोगों का सम्मान करने वाली पार्टी हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रत्याशी ही उनके प्रत्याशी हैं, चुनावी समर में कांग्रेस प्रत्याशी से अलग उनके नाम से कोई राजनीति करता है तो वह आमजन को भ्रम में डालने का काम कर रहा है, कांग्रेस प्रत्याशियों को विजयी बनाकर ऐसे लोगों को कड़ा जवाब दिया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने साफ-साफ शब्दों में कहा कि मेरा और पार्टी का सच्चा हितैषी वही है जो आज मेरी बात मानता है। जो आज मेरी बात नहीं मानता उससे भविष्य में उम्मीद करना बेकार है। मुख्यमंत्री कल यहां कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

        उन्होंने मौके पर मौजूद झज्जर कांग्रेस प्रत्याशी गीता भुक्कल, बेरी से डा. रघुबीर सिंह कादियान एवं बादली से नरेश शर्मा को भारी बहुमत से जिताने की अपील की। डा. कादियान को मुख्यमंत्री ने अपना संघर्ष का साथी बताते हुए बड़े भाई का स मान देकर जनता से पुरजोर समर्थन की अपील की। वहीं झज्जर की प्रत्याशी गीता भुक्कल को जुझारू विधायक बताते हुए कहा कि आज प्रदेश भर के लोग जानते हैं कि गीता भुक्कल विकासशील विचारधारा रखने वाली विधायक हैं। उन्होंने कहा झज्जर का विकास तेजी से हो इसके लिए झार विधानसभा क्षेत्र के लोगों को पार्टी ने उन्ही की बेटी गीता भुक्कल को प्रत्याशी बनाया है। मुख्यमंत्री ने विश्वास दिलाया झज्जर के गांव मातनहेल की बेटी गीता भुक्कल विधायक बनने के बाद लोगों के हर सुख-दुख में सहभागी रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि नरेश शर्मा बतौर विधायक भी अपने क्षेत्र के लिए संघर्षरत रहे। हुड्डा ने कहा कि हर जरूरत पर नरेश शर्मा उन्हें आगे खड़े नजर आए।   

हुड्डा ने कहा कि पार्टी प्रत्याशी विशुध्द रूप से सरकार द्वारा नेक नियति से जनहित में किए गए कार्यों को लेकर ही मैदान में है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता फिर से अपनी आस्था और विश्ववास कांग्रेस में ही जताएगी। हुड्डा ने कहा कि लोगों का भरोसा भी कांग्रेस में ही है। उन्होंने कहा कि चुनावी ताने-बाने के बीच हाल ही में हरियाणा में कांग्रेस से अतिरिक्त राजनीतिक दलों ने गठबंधन की राजनीति के नाम पर जिस तरह से जनता के बीच लुका-छिपी का खेल खेलने की कोशिश की है उससे सिध्दांत की राजनीति का गहरा धक्का लगा है और इसका जवाब हरियाणा प्रदेश की जनता तमाशाई गठबंधन करने वाले नेताओं को चुनाव में मिलने वाली करारी शिकस्त के रूप में देगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि आधारहीन हो चुके विपक्षी दलों के वास्तव में अब मुद्दाविहीन राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अतीत में सत्ता में रहते हुए जनता पर कुठाराघात करने वाले नेता अब जनता को फिर से सब्जबाग दिखाने में लगे हुए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने अपने कार्यकाल में प्रयास किया है कि वायदों से बढ़कर काम हो। उन्होंने कहा कि विकास के मामले में हरियाणा को एक नई दिशा देने के साथ-साथ प्रदेश में अमन-चैन स्थापित हुआ है। सामाजिक रूप से हर वर्ग को आत्मस मान मिले इसके लिए जो प्रयास किए वे प्रदेश में नहीं बल्कि देश भर में मिसाल हैं। उन्होंने कहा बुढापा पेंशन के स मान के साथ-साथ गरीबों को सौ-सौ गज के प्लाट एवं अनुसूचित जाति वर्ग के बच्चों को शिक्षा के प्रोत्साहन के लिए ऐतिहासिक फैसले कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार ने लिए। हुड्डा ने कहा कि लोगों का विश्वास और समर्थन इसी तरह जारी रहा तो वह ज्यादा दूर नहीं जब हरियाणा प्रदेश की ज़मीन पर राजनीतिक गलियारों में बिजली-पानी के संकट के मुद्दे ही धूमिल हो जाएंगे।

हुड्डा ने कहा कि वे अपने पुराने हलके से ही चुनाव लड़ रहे हैं, चौटाला की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि उन पर बिना किसी तर्क के हलके से भागने का आरोप लगाने वाले चौटाला का शायद न तो अब जन पर भरोसा रहा है और न ही मत पर। यही कारण है कि वे स्वयं एक नहीं दो-दो जगह से चुनावी मैदान में हैं।

        इस अवसर पर बेरी के निवर्तमान विधायक एवं कांग्रेस प्रत्याशी डा. रघुबीर सिंह कादियान ने कहा कि वे बेरी के विकास के मुद्दे को लेकर चुनावी मैदान में है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने बेरी को उपमंडल बनाकर लोगों को दशकों पुरानी मांग को पूरा किया है।

        गीता भुक्कल ने इस मौके पर कहा कि अब उनकी जन्म स्थली के साथ-साथ कर्मस्थली भी झार रहेगी। उन्होंने कहा जो विश्वास पार्टी और मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने उनमें जताया है उसे वे विधायक बनने के बाद हर हाल में कायम रखेंगी।

बादली के कांग्रेस प्रत्याशी नरेश शर्मा ने इस मौके पर कहा कि मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने बादली को विकास के मामले में विश्व के मानचित्र पर लाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा के प्रयास से आज विश्वस्तरीय चिकित्सा संस्थान ऐ स बादली में स्थापित किया जा रहा है। उन्होंने कहा जनता का यह विश्वास कायम रहा तो विकास का यह पहिया और भी अधिक तेजी से घूमेगा।

इस मौके पर राजसिंह जाखड़, पूर्व विधायक हरीराम वाल्मीकि, चिरंजी लाल शर्मा, आनंद सागर,, विकास अहलावत एडवोकेट, राकेश अरोड़ा, श्यामलाल जांगड़ा, बलवंत बेरी,  बिमला धनखड़, अजय अहलावत, श्रीओम अहलावत, ओमप्रकाश टोमा, रमेश वाल्मीकि, सुभाष, पुनीता कादियान व सुरेंद्र हरित सहित कई कांग्रेसी नेता उपस्थित थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here